सुरक्षाबलों को मिली बड़ी कामयाबी, जम्मू में एक आतंकी ढेर

साथी अंधेरे का फायदा उठाते हुए मौके से फरार हो गए

जम्मू:

सुरक्षा बलों और आतंकियों के बीच हुए मुठभेड़ में सुरक्षा बलों को बड़ी कामयाबी मिली है। जिसमें सुरक्षा बलों ने 16 दिन पहले तहरीक ए मुजाहिदीन में शामिल हुए आतंकी को मुठभेड़ मे मार गिराया है। हालांकि उसके साथी अंधेरे का फायदा उठाते हुए मौके से फरार हो गए।

दक्षिण कश्मीर के पुलवामा जिले के काकापोरा इलाके में सुरक्षा बलों ने आतंकियों होने की सूचना पर अभियान चलाया और डौगम गांव को घेर लिया। आतंकियों ने खुद को घिरा देख सुरक्षा बलों पर फायरिंग कर दी।

सुरक्षा बलों ने भी आतंकियों को मुंहतोड़ जवाब देते हुए जवाबी फायरिंग की। गोलीबारी में एक आतंकी मारा गया। जबकि उसके साथी अंधेरे का फायदा उठाकर फरार हो गए।

मारे गए आतंकवादी की पहचान अवंतीपोरा इलाके के रहने वाले अहमद भट्ट के रूप में हुई। न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक, आतंकी तहरीक ए मुजाहिदीन संगठन का है।

ये वही आतंकी है, जो बारामुला में पुलिस पार्टी पर हुए हमले में शामिल था। फिलहाल फरार आतंकियों के लिए सुरक्षाबलों ने तलाशी अभियान चला रखा है। बताया जा रहा है कि शौकत 16 दिन पहले ही आतंकी बना था।

आपको बता दें कि आतंकियों ने उत्तरी कश्मीर के बारामुला जिले में बुधवार को दो स्थानों पर सुरक्षाबलों को निशाना बनाया। दोनों स्थानों पर ग्रेनेड हमले किए गए। इसमें एक डीएसपी समेत तीन पुलिसकर्मी और एक नागरिक घायल हो गए। सुरक्षा बलों ने पूरे इलाके की घेराबंदी कर तलाशी अभियान चलाया।

जिले के पट्टन इलाके में आतंकियों ने एक नाका पार्टी पर ग्रेनेड हमला किया। इसमें डीएसपी जफर अहमद व दो अन्य पुलिसकर्मी घायल हो गए। इसमें डीएसपी का पीएसओ शब्बीर अहमद भी शामिल है। तीनों घायलों को तत्काल इलाज के लिए अस्पताल भेजा गया।

पट्टन में हमले के बाद सुरक्षा बलों ने हाल ही में आतंकी संगठन में भर्ती फैजान मजीद को गिरफ्तार किया। वह दक्षिणी कश्मीर के त्राल का रहने वाला है।

Back to top button