छत्तीसगढ़

जेल होम गार्ड के सुरक्षा अधिकारियों ने की मॉक ड्रिल

रायपुर : कार्यालय परिसर और कहीं भी आग लगने की घटना से घबराए बगैर उससे बचाव के तरीकों को जानने के लिए एनआरडीए कार्यालय में मंगलवार को एक कार्यशाला हुई । जेल और होम गार्ड के सुरक्षा अधिकारियों की ओर से आग से बचने के उपायों की जानकारी के साथ ही पर्यावास भवन परिसर में मॉक ड्रिल भी की गई। अधिकारियों और कर्मचारियों को प्रशिक्षकों की मौजूदगी में आग बुझाने का प्रशिक्षण भी दिया गया।
इस अवसर पर होम गार्ड के सीनियर फायर ऑफिसर (तकनीकी ) एसजी मोहम्मद ने कहा कि जब भी कहीं आग लगने जैसी घटना हो तो लोगों को ऐसी परिस्थिति से निपटने के तरीके की जानकारी नहीं होती। कई बार उनके सामने अग्निशमन होते हैं परंतु उन्हें उसके प्रयोग के तरीके की जानकारी नहीं होती। आग लगने की स्थिति से कैसे निबटा जाए यही बताने के उद्देश्य से मॉक ड्रिल की गई। उन्होंने पर्यावास भवन की सुरक्षा मानदंडों पर भी चर्चा कर कुछ आवश्यक सुझाव भी दिए।
एनआरडीए में समय- समय पर विभिन्न विषयों पर जागरुकता के लिए ऐसी कार्यशालाएं की जाती है। पूर्व में वस्तु और सेवाकर, कर्मचारी भविष्य निधि, स्वास्थ्य और सूचना का अधिकार जैसे विषयों पर कार्यशालाएं की गई थी।

Related Articles

Leave a Reply