छत्तीसगढ़बड़ी खबरराजनीति

रायपुर नगर निगम के 25 सौ 87 करोड़ के बजट में किसको क्या मिला यहाँ देखे

भाजपा पार्षदों ने कहा, निराशाजनक बजट

congress cg advertisement congress cg advertisement

रायपुर नगर निगम के 25 सौ 87 करोड़ के बजट में किसको क्या मिला यहाँ देखे

रायपुर : नगर निगम के महापौर प्रमोद दुबे ने रायपुर नगर निगम का साल 2018 19 का बजट पेश किया. ये बजट महापौर के कार्यकाल का चौथा बजट है.

बजट की शुरुवात महापौर ने अपने अभिभाषण से की जिसमे उन्होंने पिछले वार्षिक बजट में हुए कार्यों की जानकारी दी साथ ही एक सालों में रायपुर नगर निगम को जो उपलब्धियां मिली है उसके बारे में सदन को अवगत कराया. मेयर ने अपने बजट अभिभाषण की शुरुआत शेरो शायरी के साथ की.

महापौर पप्रमोद दुबे ने बजट पेश करते हुए बताया की इस साल का बजट करीब 25 सौ 87 करोड़ का है. महापौर ने कहा की वे इस साल 56 लाख 50 हजार के लाभ का बजट प्रस्तुत कर रहे हैं. नगर निगम के इस बार के बजट में शहर के विकास को ज्यादा तवज्जों दी गई है इसके अलावा शहर को स्मार्ट सिटी के रूप में विकसित करने पर भी जोर दिया गया है.

शहर वासियों की जरूरत को ध्यान में जल कार्य विभाग में सबसे अधिक फोकस किया गया है. इस विभाग को करीब 126 करोड़ रूपये खर्च कर शहर के लोगों को इसकी सुविधा उपलब्ध कराने का प्रावधान किया गया है. इसके अलावा अन्य विभागों को भी काफी कुछ दिया गया है.

वहीँ खिलाडियों को बढ़ावा देने के लिए 17 साल से कम उम्र के आर्थिक रूप से कमजोर खिलाडियों को 50 लाख रूपये प्रोत्साहन राशि देने का प्रावधान किया गया है. इसके अलावा शहर के पांच सार्वजनिक जगहों पर माँ की ममता केंद्र की स्थापना की जाएगी जहाँ पर माताएं अपने बच्चो की दूध पिला सकेंगी.

वहीँ इस पूरे बजट को भाजपा ने निराशा जनक बजट करार दिया है. भाजपा पार्षद दल के नेता सूर्यकांत राठौड़ का कहना है कि महापौर ने सिर्फ सरकार की योजनाओं को ही बजट में शमिल किया है नगर निगम की तरफ से कुछ नया नहीं किया जा रहा है.

यहाँ पढ़िए बजट में ये है खास

– मदर फीडिंग सेंटर के लिए 20 लाख रूपये

– डेड बॉडी रखने के लिए फ्रीजर 10 लाख रूपये

– अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाती के युवाओं और महिलाओं को व्यवसाईक प्रशिक्षण के लिए 77 लाख 5 हजार रूपये का प्रावधान

– 17 वर्ष से कम उम्र के खिलाडियों को जो आर्थिक रूप से कमजोर है उन्हें 50 लाख रूपये प्रोत्साहन राशी

– नविन उद्यानों की स्थापना के लिए 10 करोड़, उद्यानों के संधारण के लिए 1 करोड़ 50 लाख रूपये,खेल कूद सामग्री के लिए 2 करोड़ 50 लाख रूपये, वृक्षारोपण के लिए 25 लाख रूपये

– छत्तीसगढ़ी भाषा के प्रचार के लिए संगोष्ठियों के आयोजन के लिए 10 लाख रूपये, मेला स्थल के लिए 1 करोड़ रूपये – तात्यापारा से शारदा चौक तक सड़क चौड़ीकरण का कार्य

– शहर के पांच अन्य स्थानों पर 5 नए गार्डन का निर्माण

– शहर के 20 अन्य स्थानों पर नए वाटर एटीएम की स्थापना

– मोर जमीन मोर मकान के तहत 3218 मकानों का इस साल निर्माण पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है

– प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत मकानों का निर्माण जल्द पूरा कर लिया जायेगा.

– पीपीपी मोड़ पर टिकरापारा और डंगनिया के 1076 आवासों का निर्माण कार्य जल्द प्रारंभ होगा.

– सफाई व्यवस्था के तहत इस साल पूरे शहर भर में डोर टू डोर कचरा कलेक्शन का टारगेट रखा गया है.

– खारुन नदी में जाने वाले नाली के गंदे पानी को रोकने के लिए उन नालों के पास सीवरेज प्लांट लगाने की घोषणा की गई है.

– कुत्तों के नसबंदी के लिए बैरन बाजार स्थित वेटनरी अस्पताल में मार्डन आपरेशन थियेटर की व्यवस्था

– रायपुर शहर में इंटेलिजेंट ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम की स्थापना की जाएगी.

– लोगों की जरूरत को ध्यान में रखते हुए इस साल शहर में सौ जगहों पर मूत्रालय का निर्माण किया जायेगा.

– स्मार्ट सिटी के तहत स्मार्ट रोड का निर्माण किया जायेगा

– शहर के 30 प्रमुख स्थानों पर 50 अन्दर ग्राउंड डस्टबिन लगाया जायेगा.

– शहर के 22 जगहों पर स्मार्ट पार्किंग की व्यवस्था की जाएगी.

– अनुपम गार्डन के पास भी नेकी की दिवार का काम जल्द पूर्ण किया जायेगा.

– पब्लिक बायसायकलिंग योजना की शुरुआत भी जल्द कर दी जाएगी

– अब घडी चौक और आजाद चौक भी तात्यापारा चौक की तर्ज पर नए स्वरुप में नजर आयेंगे.

– सोनडोंगरी में नए स्लाटर हाउस का निर्माण किया जायेगा

– शहर में 2 नए कांजी हाउस का निर्माण किया जायेगा

– ठेलो में व्यापार करने वालों के लिए 42 वेंडिंग जोन बनाये जायेंगे

– कुआ बचाओं योजना के तहत शहर के कुओं को बचाने की शुरुआत की जाएगी

– कर्मचारी अधिकारियों के हित को ध्यान में रखते हुए सातवां वेतनमान और सेटअप के अनुसार जल्द ही पदोन्नति की प्रक्रिया पूर्ण कर पदोन्नत किया जाएगा

– रेलवे की जमीन में रहने वाले आम लोगों को रेलवे शौचालय निर्माण की अनुमति नहीं देता है ऐसे में निगम ने 15 प्रिफेब कम्युनिटी टायलेट की व्यवस्था करने का निर्णय लिया है

– गरीब और बाहर से आने वाले कमजोर वर्ग के लोगों के लिए मोवा और नए बस स्टेंड में आश्रय स्थल बनाने की घोषणा की गई है

– मुक्तिधाम में 5 नए डीप फ्रीजर की व्यवस्था की जाएगी

– घायल पशुओं के लिए 2 एम्बुलेंस की व्यवस्था करने का निर्णय लिया गया है.

इसके अलावा भी शहर वासियों को इस बार के बजट में ढेर सारी सौगाते मिली है

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.