छत्तीसगढ़बड़ी खबरराजनीति

हार सामने देखकर कांग्रेस का नया हथकंडा: संजय श्रीवास्तव

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता संजय श्रीवास्तव ने अपने खिलाफ ईओडब्ल्यू में की गई शिकायत को बदलापुर की राजनीति बताया है।
श्री श्रीवास्तव ने कांग्रेस नेताओं की इस शिकायत को झूठ का एक नया दस्तावेज बताया और कहा कि कांग्रेस निकाय चुनावों में भाजपा के प्रति बढ़ते जनसमर्थन और अपनी करारी हार को सामने देखकर चरित्र-हनन के शर्मनाक हथकंडों पर उतर आई है।
भाजपा प्रदेश प्रवक्ता, पूर्व आरडीए अध्यक्ष और रायपुर नगर निगम चुनाव में काली माता वार्ड से प्रत्याशी श्रीवास्तव ने कहा कि वे हर स्तर पर अपने पूरे कार्यकाल की जांच कराने को तैयार हैं, बशर्ते सरकार निष्पक्ष जांच की इच्छाशक्ति तो दिखाए।
एक साल से कांग्रेस सरकार भाजपा की पूर्ववर्ती सरकार पर घोटालों का आरोप लगा रही है और जांच के दौरान एक भी घोटाला प्रमाणित नहीं कर पाई है। इसका सीधा आशय यही है कि घोटालों का आरोप लगाकर चरित्र-हनन करना कांग्रेस की फितरत में है।
श्री श्रीवास्तव ने कहा कि उनका पूरा कार्यकाल पारदर्शी है। चरित्र-हनन के हथकंडों की यह राजनीति कांग्रेस को भारी पड़ेगी।
भाजपा प्रदेश प्रवक्ता श्रीवास्तव ने कहा कि वास्तव में उनका कार्यकाल बेदाग रहा है और उनके खिलाफ की गई शिकायतें तथ्यहीन हैं। चूंकि प्रदेश और राजधानी में निकाय चुनाव होने जा रहे हैं, इसलिए कांग्रेस बेबुनियाद आरोप लगाकर झूठ-फरेब की राजनीति कर रही है। यदि उनके कार्यकाल में कोई घोटाला हुआ तो एक साल से प्रदेश की सरकार और कांग्रेस क्या सोई पड़ी थी?
अब तक इस मामले में क्यों सरकार और कांग्रेस नेताओं ने जांच की पहल नहीं की?  श्रीवास्तव ने कहा कि कांग्रेस नगरीय निकाय चुनावों में भाजपा के प्रति लोगों के बढ़ते समर्थन व रूझान और अपनी तयशुदा हार को देखकर बदहवास हो गई है और इसलिए ऐन चुनाव से कुछ पहले वह झूठे आरोप लगाकर चरित्र हत्या के हथकंडों पर उतारू हो गई है।
श्रीवास्तव ने विश्वास जताया है कि कांग्रेस और उसके अहंकारी सत्ताधीशों के तमाम हथकंडों का माकूल जवाब न केवल राजधानी, अपितु पूरे प्रदेश के मतदाता 21 दिसम्बर को मतपत्र के जरिये देंगे।

Tags
Back to top button