छत्तीसगढ़

27 सितंबर की सूची के आधार पर होगा विधान सभा का चुनाव

बिलासपुर: जिले के विधानसभाओं की मतदाता सूचियों का अंतिम प्रकाशन 27 सितंबर को किया जाएगा। इसी सूची के आधार पर आगामी विधानसभा का चुनाव होगा। इस सूची में जिन मतदाताओं का नाम रहेगा, वे ही विधानसभा चुनाव में वोट डाल सकेंगे। जिला निर्वाचन अधिकारी व कलेक्टर पी. दयानंद ने मंथन सभाकक्ष में राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों की बैठक में यह जानकारी दी।

जिला निर्वाचन अधिकारी एवं जिला उप निर्वाचन अधिकारी बीएस उइके ने मतदाता सूची को लेकर निर्वाचन आयोग द्वारा तय किए गए पुनरीक्षण कार्यों की विस्तार से जानकारी दी। जिला निर्वाचन अधिकारी ने द्वितीय विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण कार्यक्रम से अवगत कराया।

बैठक में बताया कि प्रत्येक मतदान केंद्र स्थल पर अभिहित अधिकारी की नियुक्ति संबंधित निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण अधिकारी द्वारा की गई है, जो मतदान केंद्र पर उपस्थित रहकर 31 जुलाई से 21 अगस्त तक दावे एवं आपत्तियां प्राप्त करेंगे। 20 सितंबर के पूर्व दावे एवं आपत्तियों का निराकरण किया जाएगा। तत्पश्चात 27 सितंबर को मतदाता सूची का अंतिम प्रकाशन किया जाएगा। राजनैतिक दलों से अपील की गई कि सभी मतदान केंद्रों में अपने बीएलओ की नियुक्ति कर जिला निर्वाचन कार्यालय में प्रस्तुत कर दें।

टोल फ्री नंबर : मुख्य निर्वाचन अधिकारी रायपुर के द्वारा राज्य स्तर पर टोल फ्री नंबर 1950 की स्थापना की गई है। जिसमें कोई भी मतदाता मतदाता सूची के संबंध में किसी प्रकार की कठिनाई होने पर जानकारी प्राप्त कर सकता है।

इन दलों के प्रतिनिध शामिल हुए : इस बैठक में कांगे्रस से तैयब हुसैन, सुभाष ठाकुर, राष्ट्रीय गोंडवाना पार्टी से उर्मिला सिंह मार्को, सीपीएम से रवि बनर्जी, शौकत अली, एनसीपी से संजय सिंह चौहान, सुरेश किनले, छजकां से विशंभर गुलहरे, जीतू ठाकुर, आप से ईश्वर सिंह चंदेल, डीडी सिंह, लक्ष्मी प्रसाद टंडन, जवाहर सुमन, अरविंद पांडेय आदि शामिल रहे।

ईवीएम की एफएलसी : जिला निर्वाचन कार्यालय के गोदाम में कलेक्टर पी. दयानंद ने ईवीएम, बैलूट यूनिट मशीनों की रेंडम फर्स्ट लेवल चेकिंग की गई। इस दौरान राजनीतिक दलों के प्रतिनिधि मौजूद रहे।

advt

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.