छत्तीसगढ़

एनआईटी में वीमेन एम्पावरमेंट में दी गई सेल्फ डिफेंस और साइबर सिक्योरिटी की निःशुल्क ट्रेनिंग

टैक्नोकिंग की बड़ी उपलब्धि, पूरा हुआ 10000 लोगो को साइबर सिक्योरिटी की निःशुल्क ट्रेनिंग देने का पहला लक्ष्य

रायपुर : महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा देने एवं लोगों में साइबर सुरक्षा के प्रति जागरूकता लाने के उद्देश्य से साइबर सिक्योरिटी अवेयरनेस मिशन के तहत राजधानी के एनआईटी कॉलेज में टैक्नोकिंग वेब्सॉफ्ट सॉल्यूशन प्राइवेट लिमिटेड द्वारा निःशुल्क ट्रेनिंग कैंप का आयोजन किया गया, जिसमे सेल्फ डिफेंस की अनोखी तकनीक सेल्फ डिफेंस एरूडाइट सोनाली गुहा द्वारा दी गयी जिनके साथ दो इंटरनेशनल टाइकोंडो एवं कराटे प्लेयर राखी पारते और कोमल सोनी सहयोगी रहीं। वहीं साइबर सिक्योरिटी की ट्रेनिंग छत्तीसगढ़ की प्रथम महिला साइबर एरुडाइट – साइबर फॉरेंसिक एक्सपर्ट मोनाली गुहा एवं साइबर फॉरेंसिक की विश्वस्तरीय परीक्षा में 99.99% अंक हासिल करने वाले साइबर फॉरेंसिक एक्सपर्ट आयुष गुहा द्वारा दी गयी।

इस आयोजन में बतौर मुख्य अतिथि माननीय राज्य मंत्री, अध्यक्ष छ.ग. राज्य निःशक्तजन वित्त एवं विकास निगम मति सरला जैन, आईपीएस-एसपी रेलवे रायपुर मिलना कुर्रे, कैप्टन इंडियन नेवी एनएसएस करनल शशिकांत वी देशमुख शामिल होंगे। इस आयोजन में मुख्य रूप से महिला सशक्तिकरण पर ज़ोर दिया गया ताकि बढ़ते साइबर और अन्य अपराधों से युवा खुद को सुरक्षित रखने के गुर सीख सकें। लक्ष्य है कि 2020 तक पूरे छत्तीसगढ़ को एवम 2022 तक पूरे भारत को साइबर सिक्योर राष्ट्र बनाया जाए।

10000 लोगो को निःशुल्क साइबर ट्रेनिंग के लिए साइबर एक्सपर्ट मोनाली गुहा को इंडियन नेवी कैप्टन, एनएसएस करनल शशिकांत वी देशमुख ने किया सम्मानित 99.99% लाकर छत्तीसगढ़ का नाम वर्ल्ड रैंकिंग पर रौशन करने वाले साइबर फॉरेंसिक एक्सपर्टआयुष गुहा को राज्यमंत्री अध्यक्ष छ.ग. राज्य निःशक्तजन वित्त एवं विकास निगम सरला जैन ने किया सम्मानित 1000 महिलाओं को सेल्फ डिफेंस की निःशुल्क ट्रेनिंग दे चुकी सेल्फ डिफेंस एरुडाइट- साइबर एक्सपर्ट सोनाली गुहा को आईपीएस -एसपी रेलवे रायपुर मिलना कुर्रे ने किया सम्मानित इस आयोजन में सैकड़ों बच्चों ने सेल्फ डिफेन्स और साइबर सिक्योरिटी के गुर सीखे और कॉलेज प्रबंधन सहित सभी ने इसकी खूब सराहना की।

राज्यमंत्री सरला जैन ने कहा कि सुरक्षा आज के समय का अहम विषय है खासकर महिलाओं को लेकर जिस तरह से साइबर अपराध बढ़ गए हैं वहां ऐसे आयोजन काबिले तारीफ हैं वहीं आईपीएस मिलना कुर्रे ने भी युवाओं का उत्साहवर्धन कर हमेशा आगे बढ़ने की प्रेरणा दी। इंडियन नेवी कैप्टन शशिकांत वी देशमुख ने कहा कि साइबर सिक्युरिटी आज देश की सबसे गंभीर समस्याओं में से एक है ऐसे में देश के युवाओं का ये प्रयास अपने आप मे एक विशेष उपलब्धि है और उन्हीने भी एक समय मे एनआईटी से ही पढ़ाई की है जहां सालों बाद आकर युवाओं में ऐसा जोश देखकर उन्हें काफी गौरवान्वित महसूस हुआ।

सभी अतिथियों ने आयोजनकर्ता टैक्नोकिंग ग्रुप्स, एनआईटी-एनएसएस और बच्चों को उनके उज्ज्वल भविष्य के लिए अपनी शुभकामनाएं दीं। इस आयोजन में साइबर फॉरेंसिक एक्सपर्ट मोनाली गुहा ने बालिकाओं को सोशल मीडिया सेक्युरिटी, और इंटरनेट सिक्योरिटी पर फोकस किया वहीं साइबर फॉरेंसिक एक्सपर्ट आयुष गुहा ने साइबर लॉ, आईटी एक्ट, फिशिंग, ऑनलाइन ठगी से बचने के तरीके आदि पर फोकस किया।

वहीं सेल्फ डिफेंस एरुडाइट – साइबर एक्सपर्ट सोनाली गुहा ने बताया कि इंटरनेट के साथ साथ आत्मरक्षा के गुर भी अब महिलाओं के लिए ज़रूरी हैं जिसे लेकर तकरीबन 50 ऐसी ट्रिक्स सिखाई गयी जिनसे हर तरह की गंभीर स्थिति में लड़ कर महिलाएं शतप्रतिशत आत्मरक्षा कर पाएंगी। इस आयोजन में कॉलेज के प्रोफेसर डॉक्टर गिवर्धन भट्ट ने कॉलेज के एनएसएस कार्यकर्ताओं को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया वहीं हेड कोर्डिनेटर कुमार अभिनव को नेपाल जाकर एनआईटी को रिप्रेजेंट करने के लिए राज्यमंत्री सरला जैन द्वारा प्रशस्ति पत्र देकर उत्साहवर्धन किया गया।

Summary
Review Date
Reviewed Item
एनआईटी में वीमेन एम्पावरमेंट में दी गई सेल्फ डिफेंस और साइबर सिक्योरिटी की निःशुल्क ट्रेनिंग
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.