क्राइम

अपनी शिष्या से छेड़छाड़ के आरोप में 70 वर्ष के महंत पर केस दर्ज

दिल्ली में एक धर्मगुरु पर अपनी ही शिष्या ने छेड़खानी का केस दर्ज कराया है। उत्तरी दिल्ली के सब्जी मंडी इलाके में 45 वर्षीय एक महिला से कथित रूप से छेड़छाड़ करने के आरोप में राजस्थान के 70 वर्ष के एक महंत सुंदर दास बाबा के खिलाफ मामला दर्ज कराया है। पुलिस ने शनिवार को इसकी जानकारी दी।

उन्होंने बताया कि एक अदालत के आदेश के बाद महंत सुंदर दास पर मामला दर्ज किया गया है। बाबा के खिलाफ केस दिल्ली के सब्जी मंडी थाने में करीब 1 महीने पहले कोर्ट के आदेश पर दर्ज हुआ था। बाबा के कई आश्रम हैं। आरोपी बाबा की तलाश में राजस्थान में पुलिस ने छापेमारी की है।

पुलिस उपायुक्त (उत्तरी) ने मीडिया को बताया कि मामले की जांच की जा रही है। दास सब्जी मंडी इलाके में एक आश्रम चलाता है, जहां पीड़िता अपने परिवार के साथ गई थी। महिला ने अपनी शिकायत में आरोप लगाया है कि नवंबर 2014 में दास ने उसके साथ छेड़खानी की और पुलिस में मामले को रिपोर्ट करने के खिलाफ उसे धमकी दी थी।

हालांकि, पुलिस ने बताया कि अभी तक इस मामले में कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है।

महिला को धमकाने और बलात्कार के आरोपी को कोर्ट ने सुनाई 7 साल की सजामहिला को धमकाने और बलात्कार के आरोपी को कोर्ट ने सुनाई 7 साल की सजाआप सरकार ने की शीला दीक्षित के खिलाफ CBI जांच की सिफारिशआप सरकार ने की शीला दीक्षित के खिलाफ CBI जांच की सिफारिशगरीब बच्चों को रेस्तरां से किया बाहर तो सरकार ने दिए जांच के आदेश, लाइसेंस होगा रद्द?

गरीब बच्चों को रेस्तरां से किया बाहर तो सरकार ने दिए जांच के आदेश, लाइसेंस होगा रद्द?अगले साल तक बनेंगे 1,000 और मुहल्ला क्लीनिक : केजरीवालअगले साल तक बनेंगे 1,000 और मुहल्ला क्लीनिक : केजरीवालबिल बनाओ, इनाम पाओ प्रतियोगिता में 9 को मिला 50,000 रुपए का इनाम, मनीष सिसोदिया करेंगे पुरस्कार वितरणबिल बनाओ, इनाम पाओ प्रतियोगिता में

बता दें कि इससे पहले राजस्थान के स्वयंभू बाबा संत कौशलेंद्र फलाहारी महाराज के खिलाफ छत्तीसगढ़ की एक युवती ने यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया था। पुलिस ने युवती की शिकायत पर बाबा के खिलाफ रेप का केस दर्ज कर लिया गया था।

अलवर के एसपी राहुल प्रकाश ने बताया कि छत्तीसगढ़ के बिलासपुर की रहने वाली लड़की ने यौन उत्पीड़न का मामला दर्ज कराया था।पीड़िता का परिवार, पहले तो इस मामले में किसी भी कार्रवाई का इच्छुक नहीं था लेकिन गुरमीत राम रहीम को सजा मिलने के बाद उन्होंने पुलिस में शिकायत दर्ज कराने का फैसला किया।

Summary
Review Date
Reviewed Item
शिष्या
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *