उत्तर प्रदेशराज्य

योगी सरकार ने लिया फैसला, उन्नाव गैंगरेप कि जाँच CBI करेगी

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के आवास के बहार दिखे सेंगर, आत्मसमर्पण से किया इंकार

लखनऊ: उन्नाव गैंगरेप केस में योगी सरकार ने मामले कि जाँच सीबीआई को सौपी. बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर आरोप हैं कि उन्होने अपने साथियो के साथ नाबालिग लड़की का गैंगरेप किया. आपको बता दे कि बीजेपी कुलदीप सिहं पुलिस के सामने पेश हुए लेकिन सरेंडर करने से मना कर दिया. प्रधान सचिव ने कहा कि – “विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर बलात्कार के आरोपों पर विचार करते हुए उचित धाराओं के तहत प्राथमिकी दर्ज की जाएगी और जांच सीबीआई को सौंपी जाएगी”

यह पूरी घटना तब कि हैं जब कुछ घंटे पहले इलाहाबाद हाईकोर्ट ने राज्य सरकार से घटना पर उसका रुख पूछा और मामले की सुनवाई गुरुवार तक के लिए स्थगित कर दी. इस बीच खबरे आ रही थी कि, सेंगर देर रात अचानक राजधानी में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के आवास के बाहर दिखे. ऐसा लग रहा था की आत्मसमर्पण करेंगे, पर आत्मसमर्पण किए बिना ही अपने समर्थको के साथ निकल गए. इसी बीच बीजेपी विधायक सेंगर ने कहा, ‘मैं यहां मीडिया के समक्ष आया हूं. मैं भगोडा नहीं हूं. मैं यहां राजधानी लखनऊ में हूं. बताइये क्या करूं.’

योगी सरकार ने पीडिता के पिता के मौत के मामले में उन्नाव जिला अस्पताल के दो डॉक्टरों और जेल अस्पताल के भी तीन डॉक्टरों को निलंबित कर कार्रवाई के आदेश दिए हैं. इस सभी पर आरोप है की इन्होने इलाज में लापरवाही बरती.

Summary
Review Date
Reviewed Item
योगी सरकार ने लिया फैसला उन्नाव गैंगरेप कि जाँच CBI करेगी
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *