हिमाचल प्रदेश के 6 बार सीएम रहे सीनियर कांग्रेस नेता वीरभद्र सिंह का निधन

प्रदेश सरकार ने तीन दिन का राजकीय शोक घोषित किया

नई दिल्ली:हिमाचल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के निधन के बाद प्रदेश सरकार ने तीन दिन का राजकीय शोक घोषित किया है। शोक के दौरान प्रदेश में कोई सरकारी मनोरंजन संबंधी कार्यक्रम नहीं होंगे। प्रदेश के सरकारी दफ्तर खुले रहेंगे। तीन दिन तक राष्ट्रीय ध्वज आधा झुका रहेगा।

सामान्य प्रशासन विभाग की ओर से जारी अधिसूचना के अनुसार प्रदेश में आठ से 10 जुलाई तक राजकीय शोक रहेगा। पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह का पार्थिव शरीर शुक्रवार को पहले रिज मैदान पर लोगों के दर्शन के लिए रखा जाएगा। इसके बाद पार्थिव शरीर प्रदेश कांग्रेस के दफ्तर राजीव भवन ले जाया जाएगा और वहां पर पार्टी नेता कार्यकर्ता श्रद्धांजलि अर्पित करेंगे।

वहीं, भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष एवं संसद सुरेश कश्यप, मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर, प्रभारी अविनाश राय खन्न, सह प्रभारी संजय टंडन, संगठन महामंत्री पवन राणा, महामंत्री त्रिलोक जम्वाल, राकेश जम्वाल एवं त्रिलोक कपूर ने पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के निधन पर शोक व्यक्त किया है।  

उन्होंने दिवंगत आत्मा की शांति के लिए ईश्वर से प्रार्थना की है। बता दें तीन दिन पहले ही जेपी नड्डा खुद वीरभद्र सिंह से मिलने आईजीएमसी शिमला गए थेए लेकिन वह वेंटीलेटर पर थे तो उनसे मिल नहीं पाए थे। इस दौरान सीएम जयराम भी मौजूद थे।

कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर ने पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के निधन पर शोक जताते हुए कहा कि वह निशब्द हैं और एक युग का अंत हो गया। नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री ने पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए लिखा कहा-एक युग का अंत। दिलों के राजा नहीं रहे। विनम्र श्रद्धांजलि।

हिमाचल प्रदेश के 6 बार सीएम रहे सीनियर कांग्रेस नेता वीरभद्र सिंह का आज निधन हो गया। वह 87 साल के थे और 2 बार कोरोना से रिकवरी होने के बाद फिर तबीयत बिगड़ने से शिमला के हॉस्पिटल में भर्ती थे।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button