वरिष्ठ पत्रकार विनोद वर्मा गाजियाबाद से गिरफ्तार

वरिष्ठ पत्रकार विनोद वर्मा को शुक्रवार तड़के यूपी के गाजियाबाद से गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस के मुताबिक, उन पर ब्लैमेलिंग, रंगदारी वसूलने और जान से मारने की धमकी देने का आरोप है। यह गिरफ्तारी छत्तीसगढ़ पुलिस ने की है।

बता दें कि विनोद वर्मा देशबंधु और बीबीसी में अपनी सेवाएं दे चुके हैं। कुछ वक्त पहले तक वह अमर उजाला डिजिटल के प्रमुख थे।

वर्मा को गाजियाबाद के इंदिरापुरम से अरेस्ट किया है। छत्तीसगढ़ कांग्रेस ने विनोद वर्मा की गिरफ्तारी की निंदा की है।

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष भूपेश सिंह बघेल ने कहा कि विनोद वर्मा के पास छत्तीसगढ़ के एक रसूखदार मंत्री की सीडी थी। इस सीडी में मंत्री एक लड़की के साथ आपत्तिजनक अवस्था में नजर आ रहे थे।

नेता ने आरोप लगाया कि यह सीडी सबके पास थी, ऐसे में विनोद वर्मा की गिरफ्तारी निंदनीय है।

टीवी रिपोर्ट में यूपी डीजीपी के हवाले से बताया गया है कि इस गिरफ्तारी को सिर्फ छत्तीसगढ़ पुलिस ने अंजाम दिया है। उधर, पूर्व पत्रकार और आप के सीनियर नेता आशुतोष ने इस गिरफ्तारी को प्रेस की आजादी पर हमला बताया है।

advt
Back to top button