दुर्गा मूर्ति विसर्जन के दौरान आठ डूबे, सात के शव बरामद, एक की तलाश जारी

राजधानी में मां दुर्गा की प्रतिमाओं के विसर्जन के दौरान छह किशोर समेत आठ लोग यमुना में डूब गए। अलीपुर और सोनिया विहार में हुए हादसों की सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस, दमकल विभाग और गोताखोरों ने पांच किशोरों व दो युवकों के शव निकाल लिए, जबकि एक किशोर का कुछ पता नहीं चल पाया था। देर शाम तक गोताखोरों की टीम उसे तलाशने में जुटी थी। उधर, पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिए हैं।

पहला हादसा दोपहर करीब 12.15 बजे चौहान पट्टी सोनिया विहार ठोकर नंबर-7 में हुआ। यहां चौहान पट्टी निवासी सुदामा (13) डूब गया। इसके बाद दोपहर 3 बजे चौहान पट्टी निवासी विशाल (11) इसी स्थान पर डूब गया।

एक अन्य मामले में शाम 7.40 बजे सूचना मिली कि ठोकर नंबर-8, सोनिया विहार में दो लड़के डूब गए हैं। गोताखोरों की टीम ने रात 9 बजे सुनीता कॉलोनी, लोनी निवासी सुनील (20) व बंटी (17) के शव पानी से निकाले। सोनिया विहार में डूबे लड़कों के शवों को निकालकर जीटीबी अस्पताल की मोर्चरी भेज दिया गया।

दूसरी ओर अलीपुर में पल्ला गांव ठोकर नंबर-6 के पास हादसा हुआ। यहां ईस्ट पंजाबी बाग की झुग्गियों से आए चार लड़के विसर्जन के दौरान यमुना में डूब गए। शाम करीब 5 बजे पुलिस को सूचना मिलने पर दमकल व गोताखोरों की टीम मौके पर पहुंची। गोताखोरों की टीम ने यमुना से सुनील (16), रोहन (15) अनीश (20) के शव निकाल लिए जबकि यमुना में डूबे अजय (15) का कुछ पता नहीं चल पाया था।

Back to top button