लाइफ स्टाइल

7 एेसे झूठ, जाे तकरीबन हर पैरेट्स अपने बच्चाें से बाेलते हैं!

बच्चे बहुत मासूम और नादान हाेते हैं। उनके व्यक्तित्व को जैसा आकार दिया जाए, वह वैसे ही बन जाते हैं। बचपन में माता-पिता से सुनी हुई बातें उनके दिलाे-दिमाग पर छा जाती हैं।

बच्चे बहुत मासूम और नादान हाेते हैं। उनके व्यक्तित्व को जैसा आकार दिया जाए, वह वैसे ही बन जाते हैं। बचपन में माता-पिता से सुनी हुई बातें उनके दिलाे-दिमाग पर छा जाती हैं।

बच्चाें काे किसी चीज़ से राेकने के लिए अकसर कई माता-पिता उन्हें अलग-अलग तरह का डरावा देते हैं कि अगर अाप एेसे कराेगे ताे ये हाे जाएगा, ये चीज़ कराेगे, ताे एेसा हाे जाएगा। बच्चे भी डर के मारे वह चीज़े करने से बचते। अाज हम अापकाे एेसे ही कुछ झूठ बताने जा रहे हैं, जाे कुछ पैरेंट्स अपने बच्चाें से बाेलते हैं!

– मम्मी मुझे भी चाय पीनी हैं, न बेटा न! बच्चे ज्यादा चाय नहीं पीते। इससे रंग काला हाे जाता है और बच्चे भी इस झूठ काे सच मानकर चाय नहीं पीते। अब इन मासूम बच्चाें काे काैन समझाए कि रंग ज्यादा देर तक धूप में रहने से काला हाेता है।

– अकसर स्कूल और कॉलेज के दिनाें में बच्चाें काे माता-पिता से यह बात सुनने काे मिलती है कि अभी पढ़ाई कर लाे, बाद में मस्ती ही करनी हैं। सारा दिन मस्ती करते रहते हाे, पढ़ाई कब कराेगे।

– हरी सब्जियां नहीं खाेअाेगे, ताे दिमाग तेज नहीं हाेगा। मम्मी की ये बात सुनकर बच्चाें काे न चाहते हुए भी सब्जियां खानी पड़ती है। भई अब तेज दिमाग काैन नहीं चाहता।

– बचपन में बच्चे तरह-तरह के फेस बनाते रहते हैं। कभी फनी चेहरे, ताे कभी उदासी वाले। तब मां-बाप काे अकसर उन्हें यह डॉयलाग मारते हुए सुना जाता है कि एेसा मुंह बनाअाेगे ताे पक्का वैसा ही बन जाएगा।

– सिगरेट और शराब पीने वाले लाेग बुरे हाेते हैं। एेसी चीज़े पीने वाले लाेगाें से दूर रहना चाहिए। अब इन मासूम बच्चाें काे काैन समझाएं कि बुरी अादतें हाेने से लाेग भी बुरे नहीं हाे जाते। कुछ लाेग शाैक से भी इनका सेवन करना पसंद करते हैं।

– चिंटू दूध पी लाे। नहीं मम्मी मुझे नहीं पीना! क्याें अरे तुम्हें पता नहीं इसे पीने से हाइट लंबी हाेती है। चलाे जल्दी से खत्म कराे।

– मम्मी वीडियाे गेम कहां रखी है, मुझे खेलनी है। बेटा वाे ताे काैअा ले गया। एेसा कराे अभी तुम पढ़ लाे, तुम्हारे पापा अाएंगे ताे नई दिला दूंगी।

Tags
Back to top button