एक इंजीनियरिंग छात्र समेत सात लोगों ने 2 दिनों के अंदर की खुदकुशी, जाने वजह

रानी कुमारी नाम की 18 साल की नवविवाहिता ने खिड़की से फंदा लगाकर की खुदकुशी

गौतमबुद्ध नगर:उत्तर प्रदेश के जिला गौतमबुद्ध नगर में सेक्टर-107 स्थित सनवर्ल्ड वनालिका नामक सोसायटी में रहने वाले 20 साल के इंजीनियरिंग के छात्र विराज पांडे ने सोमवार सुबह को अपने फ्लैट के 14वीं मंज़िल से छलांग लगा दी. विराज को गंभीर हालत में नोएडा के जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां डॉक्टरों ने उनको मृत घोषित कर दिया.

वहीँ थाना फेज 3 में रानी कुमारी नाम की 18 साल की नवविवाहिता ने खिड़की से फंदा लगाकर खुदकुशी कर ली. हैरानी की बात यह है कि रानी का विवाह दो महीने पहले ही हुआ था. कुछ दिन पूर्व ही वह बिहार के छपरा स्थित अपने ससुराल से नोएडा आई थी.

फेस-2 क्षेत्र में रहने वाले पंकज ने मानसिक तनाव के चलते रविवार को अपने घर पर पंखे से फंदा लगाकर जीवनलीला समाप्त कर ली. वहीं, कासना में रहने वाली 20 साल की लक्ष्मिता ने पंखे से फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली. पति राजेश ने पुलिस को बताया कि लक्ष्मिता ने मानसिक तनाव के चलते खुदकुशी की है.

इसके अलावा थाना सेक्टर-49 क्षेत्र के महागुन मॉडर्न सोसायटी में रहने वाली 82 साल की बुज़ुर्ग महिला विमला कालरा ने अपनी सोसायटी की बिल्डिंग की 20वीं मंजिल से कूद कर आत्महत्या कर ली. परिजनों ने बताया कि वह बीमारी से ग्रसित थी, जिसकी वजह से वह मानसिक तनाव में थी.

नोएडा के बिसरख इलाके के चिपयाना बुजुर्ग में रहने वाले 42 साल के विपिन ने मानसिक तनाव के चलते पंखे से लटककर खुदकुशी कर ली. बता दें कि लॉकडाउन के बाद मानसिक तनाव के मामले बढ़े हैं. लोगों में करियर व अन्य चीजों को लेकर चिताएं बढ़ी हैं.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button