छत्तीसगढ़

सातवीं आर्थिक गणना: जिले में अब तक 55 हजार से अधिक का सर्वे

सातवीं आर्थिक गणना के तहत

राजशेखर नायर
धमतरी: जिले की आर्थिक एवं भौगोलिक स्थिति की गणना किए जाने के उद्देश्य से काॅमन सर्विस सेंटर के जरिए जिले में सातवीं आर्थिक गणना का कार्य किया जा रहा है।

इसके आधार पर सरकार उद्यमियों के लिए नई कल्याणकारी योजनाएं बना सकेगी। इस बार यह सर्वे पूरी तरह से पेपरलेस और मोबाईल एप के जरिए किया जा रहा है।

कार्य की समीक्षा और निरीक्षण के लिए आज जिला पंचायत सभाकक्ष में दोपहर 12 बजे से राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय रायपुर के उप महानिदेशक रोशनलाल साहू द्वारा बैठक ली गई।

इस मौके पर श्री साहू ने सभी पर्यवेक्षी अधिकारियों और काॅमन सर्विस सेंटर के प्रगणक और सुपरवाईजर को राष्ट्रहित की इस महत्ती कार्य को गुणवत्तापूर्वक और समय पर पूरा करने के निर्देश दिए।

उन्होंने साफ तौर पर कहा कि किसी भी व्यवसायिक प्रतिष्ठान से उनके सारे रजिस्ट्रेशन नंबर, लाइसेंस, पैन नंबर, कामगारों की संख्या मोबाईल एप के माध्यम से अनिवार्य रूप से दर्ज किया जाए।

जिला सांख्यिकी अधिकारी मधु साहू ने इस अवसर पर बताया कि जिले में लगभग ढाई लाख आवासीय, व्यवसायिक एवं अन्य प्रतिष्ठानों का सर्वे किया जाना है। अब तक कुल 55,613 सर्वे हुए हैं, इसमें 46,123 आवासीय, 3984 व्यवसायिक और 5506 अन्य का सर्वे शामिल है। इस मौके पर आर.एल.खंडेल, श्रीवास्तव, गोपाल सिंह,पेन्देरे,कुसरे एवं सीएससी से राज्य प्रमुख मदन मोहन राउत,जयनारायण पटेल, जिला समन्वयक लावेन्द्र कोसरिया, पूरण देवांगन और सभी प्रगणक एवं सुपवाईजर उपस्थित रहे।

Tags
Back to top button