शा.दू.ब. महिला महाविद्यालय में मनाया गया विश्व दिव्यांग दिवस

छत्तीसगढ़ का प्रथम सुगम्य भारत में चिन्हित महाविद्यालय में 2 व्हील चेयर युक्त, 20 दृष्टि बधित, 5 अन्य दिव्यांगता से ग्रसित छात्राएं अध्ययन रत है।

रायपुर : शा.दू.ब. महिला महाविद्यालय में आज दिनांक 3/12/21 को विश्व दिव्यांग दिवस मनाया गया। छत्तीसगढ़ का प्रथम सुगम्य भारत में चिन्हित महाविद्यालय में 2 व्हील चेयर युक्त, 20 दृष्टि बधित, 5 अन्य दिव्यांगता से ग्रसित छात्राएं अध्ययन रत है। लगातार विगत वर्षो से दिव्यांग छात्राओं के अध्ययन करने की संख्या में वृद्धि हो रही है।

शा.दू.ब. महिला महाविद्यालय में मनाया गया विश्व दिव्यांग दिवस

समावेशी विकास पर बल देने हेतु प्रभारी प्राचार्य डॉ. प्रीति शर्मा ने इसे जागरूकता फैलाने वाला कार्यक्रम कहा। IQSC प्रभारी डॉ. उषा किरण अग्रवाल ने समाज की मानसिकता तथा दिव्यांगों के प्रति दृष्टिकोण को बदलने की बात रखी। स्वशासी प्रभारी डॉ. अभया जोगलेकर ने छात्राओं से स्वास्थ्य एवं पोषण के संबंध में जानकारी दी।

छात्राओं द्वारा लैपटॉप बैटरी चालित 3 चक्के वाली (एरिक्सा) (आशिकि) सहयोग के साथ साथ दिव्यांगजन रोजगार (कार्यालय) को छत्तीसगढ़ में आरंभ करने की बात रखी छत्तीसगढ़ शासन में 6% रोजगार की उपलब्धता की प्राप्ति हेतु रोजगार कार्यालय की तुरंत आवश्यकता एवं राज्य पुनर्वास परिषद की स्थापना की जरूरत पर दिव्यांगजन प्रकोष्ठ प्रभारी डॉ शीला श्रीधर ने बल दिया।

RDWD एक्ट के प्रभावी संचालन हेतु law enforcement officer की नियुक्ति भी स्वागतेय होगी।यह आयोजन दिव्यांग जन पार्किंग स्थल पर आयोजित किया गया।महाविद्यालय के तीन कर्मचारी सोनू ,गुरुशरण और श्यामलाल को प्राचार्य ने सम्मानित किया ताकि सबकी सोच उनके प्रति सकारात्मक हो। बड़ी संख्या में छात्राएं और प्राध्यापक उपस्थित थे।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button