ममता के गढ़ में शाह दो दिवसीय दौरे पर, कहा- जल्द ही सत्ता से दूर होगी TMC

नई दिल्ली : भाजपा अध्यक्ष अमित शाह पश्चिम बंगाल के दो दिवसीय दौरे पर हैं। उनका यह दौरा अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव के मद्देनजर किया जा रहा है। शाह ने आज पुरुलिया जिले में एक रैली को संबोधित करते हुए ​मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने ममता सरकार के​ खिलाफ एकजुट होने का आह्वान किया।

पश्चिम बंगाल में की गई 20 कार्यकर्ताओं की हत्या ; भाजपा अध्यक्ष ने आरोप लगाया कि तृणमूल कांग्रेस के शासन के दौरान बंगाल में बम बनाने के उद्योग के अलावा कोई अन्य उद्योग नहीं फला। उन्होंने कहा कि मैं बंगाल के लोगों को बताना चाहता हूं कि रामकृष्ण परमहंस और बंकिम चंद्र चटर्जी की धरती हिंसा की धरती नहीं है, यह हमारे पार्टी के संस्थापक श्यामा प्रसाद मुखर्जी का गृह क्षेत्र है। शाह ने कहा कि बंगाल में भाजपा के 20 कार्यकर्ताओं की हत्या हो चुकी है, कई कार्यकर्ताओं को झूठे केस में फंसाया गया। उन्होंने कहा कि राज्य से घुसपैठ रोकने और बंगाल में माफिया पर नियंत्रण के लिये ममता सरकार को उखाड़ फेंकना होगा।

शाह ने आम लोगों से किया संपर्क : वहीं शाह ने ‘समर्थन के लिए संपर्क‘ कार्यक्रम के तहत पुरुलिया जिले के लागदा गांव में आम लोगों से संपर्क किया। वह गांव में संकरी पगडंडियों से गुजरे और पांच मकानों में गये। यहां की महिलाओं ने पारंपरिक रीति से उनका स्वागत किया। इससे पहले भाजपा अध्यक्ष ने बीरभूम जिले में प्रसिद्ध तारापीठ मंदिर में आज पूजा-अर्चना भी की। उन्होंने देवी को बनारसी साड़ी , फल और एक माला अर्पित किए। सुरक्षा कारणों से सुबह नौ बजे से मंदिर में श्रद्धालुओं के प्रवेश पर रोक लगा दी गई थी।

बंगाल में 26 सीटों का रखा लक्ष्य : बता दें कि शाह ने बुधवार को पार्टी की राज्य चुनाव समिति के साथ बैठक की। इस दौरान उन्होंने प्रदेश इकाई के नेताओं को राज्य के प्रत्येक ब्लॉक में रैली कर मोदी सरकार के विकास कार्यों की जानकारी लोगों तक पहुंचाने के निर्देश दिए। भाजपा अध्यक्ष ने अगले वर्ष लोकसभा चुनाव के लिए पश्चिम बंगाल में 22 सीटों का लक्ष्य रखा था लेकिन हाल ही में हुए पंचायत चुनाव में अच्छे परिणामों से उत्साहित पार्टी की प्रदेश इकाई ने लक्ष्य बढ़ा कर 26 सीट कर दिया है।

Back to top button