बड़े दिनों बाद शमी को राहत की सांस

BCCI कॉन्ट्रैक्ट में शामिल, फिक्सिंग का आरोप भी हटा

नई दिल्ली : पत्नी हसीन जहां के आरोपों में घिरे हुए भारतीय तेज गेंदबाज के लिए राहत की खबर आई है। शमी अब टीम इंडिया में वापसी कर सकते हैं। बीसीसीआई ने आज शमी को अपने सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट में शामिल कर लिया है। इसके अलावा उन्हें मैच फिक्सिंग के आरोपों से भी अलग कर दिया गया है।

शमी को मिलेंगे सालाना 3 करोड़ : गुरुवार को बीसीसीआई ने मोहम्मद शमी को खिलाड़ियों के सालाना कॉन्ट्रैक्ट में शामिल कर लिया गया है। उन्हें बोर्ड ने पहले से निर्धारित B ग्रेड में रखा है, जिसमें उन्हें टीम इंडिया के लिए खेलते हुए सालाना 3 करोड़ रुपये मिलेंगे। इसके साथ ही जांच एजेंसी ने मोहम्मद शमी पर मैच फिक्सिंग के आरोपों से इंकार कर दिया है।

शमी और हसीन जहां शरीयत के दायरे में सुलझाएं मामला : शमी को कॉन्ट्रैक्ट में जगह मिलने के बाद उनके IPL 2018 में खेलने का रास्ता भी साफ हो गया है। बता दें कि इससे पहले बीसीसीआई अधिकारी ने कहा था कि अगर बीसीसीआई की भ्रष्टाचार निरोधक ईकाई के प्रमुख नीरज कुमार शमी को बोर्ड की आचार संहिता के तहत किसी अपराध से क्लीन चिट देते हैं तो केंद्रीय करार में उनकी वापसी हो सकती है। बीसीसीआई के अधिकारी ने बताया था कि हैंडबुक में क्रिकेटरों के लिये आचार संहिता है जो वित्तीय लेनदेन से संबंधित है। एसीयू (एंटी करप्शन यूनिट) सिर्फ मोहम्मद भाई और अलिश्बा से शमी के कथित लेनदेन की जांच कर रहा है।

हसीन जहां का दावा, शमी के बारे में सौरव गांगुली से की थी बातचीत : गौरतलब है कि पत्नी हसीन जहां के गंभीर आरोपों में घिरे मोहम्मद शमी ने बीसीसीआई के सामने जांच जल्द कराने के लिए गुहार लगाई थी। शमी ने कहा था कि बीसीसीआई उन पर लगे आरोपों की जल्द से जल्द जांच कराए ताकि वह आईपीएल के लिए प्रैक्टिस कर सकें। ये बात उन्होंने एक प्राइवेट चैनल को दिए इंटरव्यू में कही थी।

advt
Back to top button