शरद पवार का ऐलान, नहीं लड़ेंगे लोकसभा चुनाव

नई दिल्ली: राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के अध्यक्ष शरद पवार ने सोलापुर जिला के माढा से लोकसभा का चुनाव नहीं लडऩे की सोमवार को घोषणा की। पवार ने आज यहां संवाददाताओं से बातचीत में कहा लोगों की इच्छा थी कि पार्थ पवार (अजीत पवार के पुत्र) माढा से चुनाव लड़ें इसलिए मैं वहां से चुनाव नहीं लड़ूंगा। पवार ने कहा कि नई पीढ़ी के लोगों को अवसर देने की इच्छा थी इसलिए पार्थ को माढा से चुनाव लड़ाया जाएगा। राकांपा अध्यक्ष ने कहा कि अहमदनगर की लोकसभा की सीट राकांपा के ही पास रहेगी।

कद्दावर नेताओं में शुमार हैं शरद पवार

आपको बतां दे कि शरद पवार का नाम महाराष्ट्र कद्दावर नेताओं में आता है। पवार फिलहाल महाराष्ट्र से राज्यसभा सांसद हैं। महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री शरद पवार पिछली यूपीए सरकार में कृषि मंत्रालय के साथ-साथ उपभोक्ता, खाद्य एवं पीडीएस मंत्री भी रह चुके हैं।

पवार 1991 से 2009 तक वे महाराष्ट्र के बारामती से लोकसभा सांसद रहे हैं। 48 लोकसभा सीटों वाले महाराष्ट्र में 2014 में उनकी पार्टी ने 21 सीटों पर चुनाव लड़ा था, लेकिन महज चार सीटों पर जीत मिली थी।

11 अप्रैल से 19 मई तक होंगे मतदानगौरतलब है कि 17वीं लोकसभा की 543 सीटों पर चुनाव के लिए रविवार को तारीखों का ऐलान हो गया है। इस बार लोकसभा चुनाव 7 चरणों में होंगे। 11 अप्रैल, 18 अप्रैल, 23 अप्रैल, 29 अप्रैल, 6 मई, 12 मई और 19 मई को वोटिंग होगी। 23 मई को नतीजे आएंगे।

3 जून तक नई लोकसभा का गठन हो जाएगा। लोकसभा चुनाव की तारीखों की घोषणा के साथ ही देशभर में आचार संहिता लागू हो गई है। आंध्र प्रदेश, ओडिशा, अरुणाचल प्रदेश और सिक्किम विधानसभा के चुनाव भी लोकसभा चुनाव के साथ होंगे। इसके अलावा 12 राज्यों की 24 विधानसभा सीटों के लिए उपचुनाव भी संबंधित लोकसभा सीटों के चुनाव के साथ होंगे।

Back to top button