राज्यराष्ट्रीय

नीतीश से रूठे शरद यादव ने मोदी सरकार पर ट्विटर के जरिये साधा निशाना

पटना:जिस दिन नीतीश ने बीजेपी के समर्थन से मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी, उस समय से अब तक शरद यादव ने नई सरकार पर कुछ भी नहीं कहा है.

बिहार में जदयू के महागठबंधन से अलग होने और बीजेपी के साथ जाने के फैसले पर कई दिनों से चुप पार्टी के वरिष्ठ नेता शरद यादव ने रविवार को एक और ट्वीट कर अपनी चुप्पी तोड़ी है.

हालांकि उसी दिन शाम को शरद यादव ने अपने आवास पर बैठक बुलाई थी. बैठक के बाद पार्टी के कुछ नेताओं ने इसके संकेत दिए थे कि शरद यादव नीतीश के भाजपा के साथ सरकार बनाने के कदम से नाराज हैं. शरद यादव इससे पहले भी 27 और 28 तारीख को ट्वीट कर चुके हैं.

ट्वीट से सरकार पर निशाना साधा

जदयू के वरिष्ठ नेता ने रविवार की सुबह एक ट्वीट किया. ट्वीट में उन्होंने केंद्र सरकार पर जमकर निशाना साधा. ट्वीट में उन्होंने लिखा, ‘न ही विदेशों में जमा कालाधन भारत लाया गया है, जो कि सत्ता में बैठी पार्टी का मुख्य स्लोगन था और न ही पनामा पेपर्स मामले में जिनका नाम है उनमें से किसी को पकड़ा गया है.’

इससे पहले भी शरद यादव ने शुक्रवार और शनिवार को भी मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कई ट्वीट किए थे. एक ट्वीट में उन्होंने

लालू ने कहा, मुझे फोन किया

गौरतलब है कि इस मसले पर लालू प्रसाद यादव ने कहा था शरद यादव ने उनसे फोन पर बात की थी. राजद अध्यक्ष ने कहा, शरद यादव ने मुझे फोन किया था.

वह हमारे संपर्क में हैं और उन्‍होंने कहा है कि वह हमारे साथ हैं. शुक्रवार को नीतीश कुमार के विश्‍वास मत हासिल करने के बाद लालू यादव ने यह बात NDTV को दिए एक इंटरव्‍यू में कही.

Tags
Back to top button