शरीफ ने दी बेटी के विरोधियों को चेतावनी

इस्लामाबादः पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने आज चेतावनी दी कि पनामा पेपर मामले में देश की भ्रष्टाचार निरोधक अदालत में उनकी बेटी मरियम को खींचने वाले लोगों को अपने कृत्यों के परिणाम भुगतने होंगे। लंदन में उनकी आलीशान संपत्तियों को लेकर पिछले वर्ष शरीफ और उनके परिवार के खिलाफ भ्रष्टाचार के तीन मामले शुरू किए गए थे।

राष्ट्रीय जवाबदेही ब्यूरो द्वारा दायर एविनफिल्ड मामले में शरीफ की बेटी मरियम , पुत्रों हसन तथा हुसैन और दामाद मोहम्मद सफदर सह- आरोपी हैं। जवाबदेही अदालत के बाहर मीडिया को संबोधित करते हुए शरीफ ने दावा किया कि मरियम का राजनीति से कोई लेना – देना नहीं था लेकिन उसे अदालत के मामलों में घसीटा गया। शरीफ (68) ने कहा कि अपनी बेटी को एक आरोपी के रूप में कटघरे में खड़ा देखना उनके लिए दर्दनाक है। एक्सप्रेस ट्रिब्यून ने शरीफ के हवाले से कहा कि मरियम का उस वक्त से कोई संबंध नहीं है जिसके लिए हमें दंडि़त किया जा रहा है। वे उससे गल्फ स्टील के बारे में पूछताछ कर रहे हैं। वह उस समय केवल एक वर्ष थीं।

इससे पूर्व मरियम (44) ने एविनफिल्ड मामले में अपना बयान दर्ज कराया। जवाबदेही अदालत ने इस मामले में शरीफ , मरियम और उनके पति से पूछताछ के लिए एक प्रश्नावली तैयार कराई थी। गौरतलब है कि पनामा पेपर्स मामले में 28 जुलाई , 2017 को उच्चतम न्यायालय ने शरीफ को प्रधानमंत्री के रूप में अयोग्य करार दिया था। फरवरी में शीर्ष अदालत ने शरीफ को सत्तारूढ़ पाकिस्तान मुस्लिम लीग – नवाज (पीएमएल -एन) के प्रमुख के रूप में भी अयोग्य करार दिया था।

advt
Back to top button