घर में सो रही सास-बहू की गला रेतकर हत्या

बैतूल जिले के छिपन्या पिपरिया में हुई वारदात

आमला (बैतूल)। बैतूल जिले के बोरदेही थाना क्षेत्र के ग्राम छिपन्या पिपरिया में शनिवार-रविवार की रात अज्ञात बदमाशों ने घर में सो रही सास-बहू की गला रेतकर हत्या कर दी। वारदात के समय घर में केवल ये दोनों महिलाएं थीं।

बोरदेही पुलिस के अनुसार, मूलत: आमला निवासी रामप्रसाद दुबे पिछले कुछ वर्षों से पत्नी कीर्ति दुबे (40) और मां सुशीलबाई दुबे (70) के साथ छिपन्या पिपरिया गांव में रह रहे थे। दुबे ग्रामीण क्षेत्र में पूजा-पाठ करते हैं और ज्यादातर समय पचमढ़ी में अपने गुरु के पास रहते हैं। पिछले 15 दिनों से वे पचमढ़ी में ही थे। घर पर उनकी पत्नी और मां थी। रविवार सुबह जब दूधवाला रोज की तरह दूध देने घर पहुंचा, तो घर से दोनों में से कोई नहीं निकला। उसकी सूचना पर पड़ोसियों ने अंदर देखा तो दोनों के रक्तरंजित शव पड़े हुए थे।

पुलिस के मुताबिक, दोनों महिलाएं घर के अलग-अलग कमरे में सोती थीं, लेकिन दोनों के शव एक ही कमरे में एक ही पलंग पर मिले। दरवाजे के सामने की ट्यूबलाइट को निकालकर नीचे रख दिया गया था। अंदर के दो बल्ब बंद थे। दरवाजा सुरक्षित पाया गया। सास के गले और बहू के हाथ में रस्सी मिली है।

इससे संदेह है कि उन्हें बांधने का प्रयास किया गया था। घर से कोई कीमती सामान भी गायब नहीं है। जिससे आशंका है कि किसी परिचित ने इनकी हत्या की है। पुलिस ने एक संदेही को भी हिरासत में लिया है। जो आमला का रहने वाला है, लेकिन शनिवार-रविवार को इस क्षेत्र में देखा गया था। उसके हाथ पर चोट के निशान हैं।

जांच के बाद स्पष्ट होगा

प्रथम दृष्टया यह हत्या का मामला है। अभी कुछ भी नहीं कहा जा सकता। पुलिस विवेचना कर रही है – अनिलकुमार शुक्ला, एसडीओपी, मुलताई

Back to top button