बड़ी खबरराष्ट्रीय

गुरु के चरणों में झुके शीश,IFYP के हेल्थ वेलनेस कार्यक्रम के प्रशिक्षकों व प्रशिक्षुओं ने आनलाइन मनाई गई गुरु पूर्णिमा।

भारतीय संस्कृति में गुरु का स्थान देवताओं से भी ऊपर माना गया है।

नई दिल्ली: इंटरनेशनल फेडरेशन ऑफ योग प्रोफेशनल्स ( IFYP) के प्रशिक्षकों व प्रशिक्षुओं ने गुरु पूर्णिमा के शुभ अवसर पर गुरु वंदना कर अपने गुरुओं को याद किया।

गुरु का मतलब शिक्षक से नहीं बल्कि गुरु माता-पिता, भाई, दोस्त किसी भी रूप में हो सकते हैं जिनका नाम सुनते ही हृदय में सम्मान का भाव जगता है।

सम्मान प्रकट करने के लिए किसी दिन का नहीं बल्कि प्रत्येक दिन गुरु वंदनीय होते हैं। हालांकि, जीवन की आपाधापी में भौतिक रूप जीवन निर्माता के प्रति कृतज्ञता जाहिर करने का मौका नहीं मिलता है।

ऐसे में गुरु पूर्णिमा वो खास दिन होता है जहां हम भौतिक एवं मन दोनों ही रूप से गुरु की वंदना, सम्मान करते हैं।आज गुरु पूर्णिमा है।

उस गुरु की महिमा का बखान करने का दिन, जो हमें भगवान और सृष्टि से रुबरु कराता है। जो हमें जीवन जीना सिखाता है। जो दुनियादारी की हकीकतों से हमें वाकिफ कराता है।

गुरु हमारी बंद आंखें खोलता है

गुरु हमारी बंद आंखें खोलता है, ताकि हम अच्‍छा और बुरा का भेद जान सकें। इस अवसर पर योगाचार्य श्रीमती स्वाति कुमारी द्वारा फेसबुक लाइव पर मेडिटेशन का कार्यक्रम आयोजित किया गया।

संस्थान के पदाधिकारियों द्वारा गुरु वंदना की तथा प्रशिक्षुओं व प्रशिक्षकों को शुभकामना संदेश दिया। इंटरनेशनल फेडरेशन ऑफ योग प्रोफेशनल्स (IFYP) विभिन्न भारतीय चिकित्सा पद्धतियों को बढ़ावा देने एवं लोगों की स्किल बढ़ाने के साथ साथ लोगों में सकारात्मकता का संचार कर रही है।

यह संस्था जहां विभिन्न प्रकार के अवेयरनेस कोर्स चलाकर लोगों को योग,आयुर्वेद,प्राकृतिक चिकित्सा, एक्युप्रेशर, प्राणायाम, मेडिटेशन, एनाटोमी, फिजियोलॉजी, आदि से परिचित करा रही है वहीं योग की ट्रेनिंग देकर लोगों की इम्यूनिटी बढ़ाने में सहयोग दे रही हैं।

फेडरेशन द्वारा ऑनलाइन माध्यम से क्वालिफाइड अनुभवी चिकित्सकों, और प्रशिक्षकों द्वारा शिक्षण प्रशिक्षण कार्य कराया जा रहा है । जिसके तीन कोर्स के प्रथम बैच समाप्त हो चुके हैं व अन्य चल रहे है।

IFYP के सभी कोर्सो में लोग रुचि भरपूर रुचि दिखा रहे है। IFYP जीवन शैली की बीमारियों से ग्रसित लोगों की भारतीय चिकित्सा पद्धति के विशेषज्ञों व योग थिरैपिस्टों द्वारा प्रत्येक रविवार को काउंसलिंग की जाएगी तथा अपने जीवन शैली में सुधार का सुझाव दिया जाएगा। जिससे निरोगी भारत की संकल्पना साकार होगी।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button