मनोरंजन

शो के मेकर्स और प्रोडक्शन के काम से खुश नहीं शिल्पा शिंदे, छोड़ना चाहती है शो

शिल्पा इस शो को छोड़ने का मन बना रही

मुंबई: कॉमेडी शो गैंग्स ऑफ फिल्मिस्तान का हिस्सा बनने वाली टीवी के लोकप्रिय सीरियल भाभी जी घर पर हैं से बेहद मशहूर हुईं एक्ट्रेस शिल्पा शिंदे शो के मेकर्स और प्रोडक्शन के काम से खुश नहीं है.

उन्होंने मेकर्स के सामने इस शो में काम करने के लिए एक शर्त रखी थी. कॉमेडी शो गैंग्स ऑफ फिल्मिस्तान का हिस्सा बनने के लिए सहमत हुईं है, इस शर्त पर हुई थीं कि वह कॉमेडियन-एक्टर सुनील ग्रोवर के साथ काम नहीं करेंगी. उन्होंने दावा किया कि शो के निर्माताओं ने शुरुआत से ही उनसे झूठ बोला है.

शिल्पा अब कॉमेडी शो गैंग्स ऑफ फिल्मिस्तान से कमबैक करने जा रही हैं. ये शो 31 अगस्त से टीवी पर शुरु होने जा रहा है लेकिन इससे पहले ही शो अनचाहे कारणों से चर्चा में आ गया है. दरअसल शिल्पा इस शो को छोड़ने का मन बना रही हैं क्योंकि वे शो के मेकर्स और प्रोडक्शन के काम से खुश नहीं हैं.

एक इंटरव्यू में शिल्पा ने कहा कि वे सुनील ग्रोवर के साथ काम नहीं करना चाहती हैं और शो के मेकर्स ने कहा था कि वे इस बात का ख्याल रखेंगे लेकिन शो के मेकर्स अब तक अपने वादे पर खरे नहीं उतरे हैं और शिल्पा इस शो को छोड़ने का मन बना रही हैं.

दो साल बाद कमबैक करने जा रही थीं शिल्पा

ईटीटाइम्स के साथ बातचीत में शिल्पा ने कहा, मैंने पहले ही कहा था कि मैं केवल सिर्फ एक शर्त पर ये शो करूंगी कि मैं सुनील ग्रोवर के साथ काम नहीं करना चाहती हूं. लेकिन उन्होंने मुझसे झूठ बोला कि वे इस शो में काम नहीं कर रहे हैं. बाद में, मुझे पता चला कि वे इस शो का ही हिस्सा हैं. मैंने शो के मेकर्स से पूछा तो उन्होंने मुझे पूरी कास्ट के बारे में बताया.

शिल्पा ने आगे कहा कि उन्होंने ये भी बताया कि सुनील का तुम्हारे पार्ट के साथ कुछ लेना देना नहीं है और वे कुछ और करेंगे लेकिन सुनील ने जल्द ही हमें जॉइन कर लिया. जब वे आपके आसपास होते हैं तो आप कुछ नहीं कर पाते हैं. वो पूरे एक्ट को टेकओवर कर लेते हैं.

शिल्पा ने कहा कि लोग इसे मेरा कमबैक बता रहे हैं लेकिन असल मायनों में तो वे पीछे खड़ी रहेंगी. शिल्पा ने कहा कि दो साल बाद उनके फैंस उन्हें टीवी स्क्रीन पर देखेंगे और जाहिर हैं, वे निराश हो जाएंगे क्योंकि वे मुख्य फ्रेम में तो जगह ही नहीं बना पाएंगी.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button