शिवसेना ने पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी से की प्रियंका गांधी की तुलना

शिवसेना ने प्रियंका को बताया हुकुम की रानी

नई दिल्‍ली: आगामी लोकसभा चुनाव 2019 में सफलता प्राप्त करने के लिए सबकुछ करने की तैयारी है, ऐसा कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी ने इस बहाने दिखा दिया है. राहुल गांधी असफल हुए इसलिए प्रियंका को लाना पड़ा, ऐसी अफवाहें उड़ाई जा रही हैं, जिसमें दम नहीं.

शिवसेना ने मुखपत्र में प्रियंका की तुलना उनकी दादी और पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी से की है. शिवसेना ने कहा है कि प्रियंका गांधी की तोप चली और उनकी सभाओं में भीड़ उमड़ने लगी तो यह महिला इंदिरा गांधी की तरह हुकुम की रानी साबित हो सकती है.

इसमें आगे लिखा गया है कि राहुल गांधी कांग्रेस अध्यक्ष हैं. ‘राफेल’ जैसे मामले में उन्होंने सरकार की मुश्किलें बढ़ा दी हैं. इसे एक बार नजरअंदाज भी कर दें तो तीन महत्वपूर्ण राज्यों में कांग्रेस ने बीजेपी से सत्ता छीन ली और उसके चलते मरणासन्न कांग्रेस को संजीवनी मिली. उसका श्रेय उन्हें न देना, कुंठित प्रवृत्ति की निशानी है.

उत्‍तर प्रदेश में लोकसभा चुनावों के लिए सपा और बसपा के बीच हुए गठबंधन पर भी शिवसेना ने टिप्‍पणी की है. पार्टी ने सामना में लिखा है कि उत्तर प्रदेश में मायावती और अखिलेश यादव की युति हुई. कांग्रेस को उसमें महत्वपूर्ण स्थान नहीं दिया गया.

लेकिन राहुल गांधी ने अत्यंत संयम से, किसी भी तरह का हंगामा न करते हुए कहा है ‘कोई बात नहीं. हम उत्तर प्रदेश की सभी सीटें लड़ेंगे और जहां संभव होगा वहां सपा-बसपा की सहायता करेंगे.’ इस तरह की नीति अपनाना और इसके बाद प्रियंका को सक्रिय राजनीति में लाकर उत्तर प्रदेश की जिम्मेदारी देने के पीछे एक प्रकार की योजना है और उसका फायदा होगा, ऐसा दिखाई दे रहा है.

1
Back to top button