कैंसर रहित जूते-चप्पलों की गुणवत्ता पर अजय सिह के घेरे में शिवराज सरकार

रिपोर्ट को सार्वजनिक करने को कहा जिसमें जूते-चप्पल कैंसर रहित है

भोपाल। आदिवासियों को बांटे जा रहे जूते-चप्पलों की गुणवत्ता पर नेता प्रतिपक्ष अजय सिह ने शिवराज सरकार को घेरते हुए उस रिपोर्ट को सार्वजनिक करने को कहा जिसमें इस बात का दावा किया गया है कि आदिवासियों को बांटे जा रहे जूते-चप्पल कैंसर रहित हैं।

सिंह ने एक बयान में कहा कि शिवराज सरकार 10 लाख आदिवासियों के जीवन के साथ खिलवाड़ कर रही है। आदिवासियों को जो नि:शुल्क जूते-चप्पल बांटे जा रहे हैं, उनमें ऐसे रसायन का इस्तेमाल किया गया है, जो हानिकारक है और जूते पहनने वाले को गंभीर बीमारी हो सकती है।

सिंह ने शिवराज सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि सरकार आखिर उस रिपोर्ट को सार्वजनिक क्यों नहीं कर रही है, जिसके आधार पर वह यह दावा कर रही है कि आदिवासियों को वितरित जूते-चप्पल कैंसर रहित थे।

सिह ने सरकार से यह भी मांग की है कि वह फुटपाथ और बाजार में जो जूते-चप्पल बिक रहे हैं वे भी कैंसर रहित हैं, इसकी भी जांच करवाए और यह सुनिश्चित करे कि प्रदेश के नागरिकों को भी कैंसर रहित फुटवेयर मिले।

नेता प्रतिपक्ष सिह ने कहा कि वन मंत्री ने जूते-चप्पल को लेकर लंबी-चौड़ी सफाई दी, लेकिन वे नोएडा की फुटवेयर, डिजाइन एंड डेवलपमेंट इंस्टीट्यूट और चेन्नई की चर्म अनुसंधान संस्थान की उस रिपोर्ट को दबा गए, जिसका हवाला दिया। उन्हें यह रिपोर्ट सार्वजनिक करनी चाहिए।

Back to top button