छत्तीसगढ़

शिवरीनारायण के लोहा व्यापारी की हत्या कर लूट करने वाले आरोपियों का खुलासा

आलोक मिश्रा

दिनाक 17.09.2019 के प्रातः काल पुलिस को सूचना मिली की ग्राम खेरी धमनी मुख्य मार्ग के मध्य में एक टाटा माजदा क. CG 04 LK 4524 वाहन खडी है जिसके अंदर केबिन में एक व्यक्ति मरा पड़ा है सूचना पर तत्काल मौके पर जाकर सूचक लेखराम गनहरे की रिपोर्ट पर मर्ग पर क 0/19 धारा 174 जाफौ मृतक भुनेश्वर केशरवानी पिता रघुनाथ केशरवानी उस 55 वर्ष निवासी शिवरीनारायण कायम कर पंचनामा कार्यवाही बाद शव पी.एम हेतु सीएचसी पलारी भेजा गया मर्ग जाच पर अपराध धारा 302,201 भादवि का होना पाये जाने से अपराध क 365/19 धारा 302,201,397,120 भादवि कायम कर विवेचना में लिया गया।

प्रकरण के मृतक भूनेश्वर केशरवानी शिवरीनारायण जिला जाजगीर चापा का लोहा व्यापारी है। आये दिन लोहा के एगल पट्टी आदि खरीदने के लिये आने स्वयं के टाटा माजदा क्र. CG 04 LK 4524 मे बैठकर चालक सुरेश कुमार मेहर के साथ लोहा खरीदने जाता था कि दिनाक 16/09/2019 को प्रात: खरीदी करने शिवरीनारायण से रायपुर के लिये चालक सुरेश कमार मेहर के साथ स्वयं के वाहन से रवाना हुआ था। जो लोहा खरीदी की रकम अदायगी के लिए काफी नगदी रकम प्रतिदिन की भाति लेकर जा रहा था। आरोपियों की गिरफतारी पश्चात आरोपियों द्वारा पूछताछ पर बताया कि मृतक भुनेश्वर केसरवानी रायपुर इस्पात मे लोहा खरीदी हेतु जाता था वहा कार्यरत गार्ड महेश बाग, पिंटू बाग एवं मोहन पटेल से मृतक के ट्रक चालक सुरेश मेहर की दोस्ती हो गई थी। सुरेश मेहर की नजर प्रारम्भ से ही मृतक के द्वारा ले जाए जाने वाले रकम पर थी, जिसे हासिल करने की नीयत से सुरेश मेहर द्वारा अपने साथी महेश बाग, पिंटू बाग एवं मोहन पटेल के साथ मिलकर दिन निर्धारित होने के बाद महेश बाग, पिंटू बाग एवं मोहन पटेल दिनांक 15.09.19 को शाम के समय शिवरीनारायण मे सुरेश मेहर के घर जाकर योजना तैयार किया । दिनांक 16/09/19 को प्रात: जब मृतक अपने चालक सुरेश मेहर के साथ लोहे का व्यवसाय व्यापार इत्यादि के लिये अपने टाटा माजदा से निकला जहा पूर्व योजनाबद्ध तरीके से पिंटू बाग निर्धारित स्थान पर खड़ा था जिसे अपना साथी बताकर सुरेश मेहर द्वारा ट्रक में बैठा लिया गया। उसके पश्चात जैसे ही ट्रक कुछ दूर आगे बढ़ी पिंटू बाग द्वारा अपने पास रखे व्हील पाना से भुनेश्वर केशरवानी का सिर में ताबड़तोड़ वार किया और अपने गमछे से मृतक के गला को दबाकर उसकी हत्या कारित कर दिये। बाद साक्ष्य छुपाने की दृष्टि से शव एवं वाहन को ग्राम खैरी धमनी के मध्य जंगल में ले गये तथा मृतक के पास से 510000/ रूपये को लूटकर भाग गये। उसके बाद से ही सभी आरोपी छुपते छिपाते फिर रहे थे जिसे पुलिस अधीक्षक बलौदाबाजार श्रीमति नीतु कमल के आदेशानुसार अति पुलिस अधीक्षक महोदय जे.आर ठाकुर एवं श्रीमति निवेदिता पाल के मार्ग निर्देशन में उप पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ बघेल के नेतृत्व में थाना पलारी एवं जिला स्तर की एक टीम संयुक्त रूप से तैयार कर आरोपियो की पतासाजी हेतु विभिन्न स्थानों की ओर रवाना किया गया था। अथक प्रयासकर सुरेश मेहर पिता नाथुराम मेहर निवासी शिवरीनारायण को उसके जीजा के घर ग्राम सकरी बिलासपुर से एवं मोहन पटेल पिता जीवन लाल पटेल निवासी अटल आवास उरला रायपुर को रायपुर इस्पात उरला से दिनाक 19/09/19 को गिरफ्तार किया गया। आरोपी सुरेश मेहर के पास से उसके निशानदेही पर उसके परिवारजनों के पास से 150000/रू एवं आरोपी मोहन पटेल के पास से घटना में प्रयुक्त काले रंग की सोल्ड पल्सर को बरामद किया गया। आरोपीयों को विधिवत माननीय न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत कर रिमाण्ड पर भेजा जाता है।

उक्त आरोपीयों की गिरफ्तारी में निरीक्षक एन के स्वर्णकार थाना प्रभारी पलारी, उप निरीक्षक ओमप्रकाश त्रिपाठी प्रधान आरक्षक समीर शुक्ला, राजेन्द्र नेताम, आरक्षक नरेश खूटे, राजेन्द ठाकुर, देव प्रसाद मलहोत्रा, सत्येन्द बजारे विजेन्द्र निराला, अश्वनी चंदेल, अरूण रलाकर, मनमोहन देवागन, रंजीत खलखो एवं सायबर सेल से कुमार जायसवाल का सराहनीय योगदान रहा।

Tags
Back to top button