अपनी प्रेमिका के प्रेम में फंसकर अपनी धर्मपत्नी की गोली मारकर हत्या

हत्या का आरोप प्रधानी चुनावी के प्रतिद्वंदी पर लगाया

बाराबंकी:उत्तर प्रदेश के बाराबंकी में पति ने अपनी प्रेमिका के प्रेम में फंसकर अपनी धर्मपत्नी की गोली मारकर हत्या 9 जून को कर दी थी. हत्या का आरोप प्रधानी चुनावी के प्रतिद्वंदी पर लगाया लेकिन पुलिस को शक हुआ तो आरोप पति दामोदर को हिरासत में लेकर पूछताछ की लेकिन दामोदर के परिजनों और ग्रामीणों ने मृतका का शव सड़क पर रख कर प्रदर्शन किया.

इसमें पुलिस और परिजनों में जमकर मुठभेड़ हुई थी. इसका फायदा उठाते हुए दामोदर फरार हो गया था. 3 दिन पहले उसने वकील की वेशभूषा में कोर्ट में आत्मसमर्पण कर दिया था. पुलिस ने दामोदर को रिमांड पर लिया और जब पूछताछ किया तो मामला काफी चौंकाने वाला सामने आया है. घटना थाना असन्दरा इलाके की है.

बाराबंकी के थाना असन्दरा और डायल 112 पुलिस को 9 जून की रात को वादी दामोदर प्रसाद पुत्र परमात्मादीन ने सूचना दी कि वह और उसकी पत्नी बलोने कार से आ रहे थे कि ग्राम अरूई के नजदीक गांव के ही सोनू वर्मा और 4 लोगों ने गाड़ी रोककर जानलेवा हमला किया जिस पर वह अपने बचाव में गाड़ी से उतरकर भागने लगे और उनकी पत्नी को गोली मारकर हत्या कर दी.
इस सूचना पर थाना असन्द्रा में मुकदमा दर्ज करते हुए पुलिस ने कुछ लोगों को गिरफ्तार किया है लेकिन पुलिस ने शक के आधार पर दामोदर को भी हिरासत में ले लिया जिसको लेकर ग्रामीणों और परिजनों ने मृतका की लाश रखकर बवाल किया. बवाल इतना बढ़ा था कि पुलिस को लाठियां चलानी पड़ी थीं. इसी बवाल का फायदा उठाकर दामोदर फरार हो गया और वकील की वेशभूषा में कोर्ट के आत्मसमर्पण कर दिया.

पुलिस अधीक्षक यमुना प्रसाद ने मामले को गंभीरता से लेते अभियुक्त की गिरफ्तारी करने के लिए अपर पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार पाण्डेय के नेतृत्व में पुलिस टीम का गठन किया गया.
पुलिस टीम द्वारा गहन जांच एवं भौतिक साक्ष्यों के संकलन से वादी के द्वारा ही पत्नी की हत्या करने के साक्ष्य पाये गये जिस पर संदिग्ध आरोपी दामोदर की पूछताछ एवं गिरफ्तारी हेतु प्रयास किया जा रहा था. आरोपी दामोदर द्वारा पुलिस की पूछताछ एवं गिरफ्तारी से बचने का लगातार प्रयास करते हुए न्यायालय में आत्मसमर्पण कर दिया गया. थाना असन्द्रा पुलिस टीम द्वारा आरोपी दामोदर को घटना के सम्बन्ध में पूछताछ एवं आलाकत्ल की बरामदगी करने के लिए न्यायालय से 29 जून को पुलिस रिमाण्ड लिया गया जिसके आधार पर आरोपी दामोदर पुलिस अभिरक्षा में लेकर अभियुक्त की निशांदेही पर घटना में इस्तेमाल किया गया एक 315 बोर का देशी तमंचा बरामद किया गया. बरामदगी के आधार पर पुलिस ने अभियुक्त के विरूद्ध थाना असन्द्रा पर एफआईआर 217/2021 में धारा 3/25 आर्म्स एक्ट पंजीकृत किया गया.

अभियुक्त दामोदर ने पुलिस को पूछताछ पर बताया कि मेरा प्रेम सम्बन्ध गांव की ही एक लड़की से था जिसमें मेरी पत्नी बाधक बन रही थी और विरोध करती थी. मैंने अपनी प्रेमिका के साथ मिलकर अपनी पत्नी को मारकर रास्ते से हटाने का प्लान कई दिन पहले ही बना लिया था और हत्या का आरोप अपने विरोधियों पर लगा देने का प्लान बनाया था जिससे कि कोई हम लोगों पर शक न करे और हम बाद में आपस में शादी कर लें.

मौका पाते ही दिनांक 8 जून को शाम को अपनी गाड़ी से पत्नी के साथ अपने गांव अरूई पहुंचने से पहले एकान्त देखकर पूर्व में बनाये गये प्लान के तहत पत्नी को तमंचा से गोली मारकर हत्या कर दी और तमंचा को सिद्धौर पुलिया रारी नाला के पास छिपा दिया तथा आरोप अपने विरोधियों पर लगा दिया.

अपर पुल‍िस अधीक्षक मनोज पांडेय ने बताया क‍ि एक महिला की गोली मारकर हत्या के मामले में थाना असंद्रा में मुकदमा दर्ज किया गया था. तमाम सबूतों और साक्ष्यों की विवेचना के आधार पर पति का नाम हत्या में आया. फिर ये फरार हो गया था और कोर्ट में आत्मसमर्पण कर दिया था. इसको रिमांड पर लेकर पूछताछ की गई तो अपना जुर्म कुबूल किया.

आरोपी ने बताया क‍ि वह प्रेमिका से शादी कर घर बसाना चाहता था जिसमे पत्नी रोड़ा बन रही थी, इसलिए घटना को अंजाम देना पड़ा. इस मामले में कार्रवाई की जा रही है.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button