राष्ट्रीय

पत्नी के सामने खुद को मारी थी गोली, उमा भारती के पीएसओ की अस्पताल में मौत

भोपाल।

पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती के पीएसओ की अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई। पीएसओ ने बीती रात अपनी पत्नी के सामने सर्विस रिलाल्वर से कनपटी में गोली मार ली थी। बताया जा रहा है कि पीएसओ राममनोहर भदौरिया और उसकी पत्नी के बीच विवाद हुआ था। पीएसओ ने डायल 100 में जब खुद को गोली मारी, उस समय पुलिस भी मौजूद थी।

असल में, पुलिस पति-पत्नी के बीच हुए विवाद के बाद दोनों को थाने ले जा रही थी। घटना के समय पुलिसकर्मी नशे में धुत था। पूरे मामले के ज्यूडिशियल इन्क्वायरी के आदेश दे दिए गए है। पुलिस ने मर्ग कायम कर शव का पोस्टमामार्टम कराने के बाद परिजनों को सौंप दिया है।

क्या हुआ उस रात :

एसआई पंकज विश्कर्मा के अनुसार, मकान नंबर 336 नेहरू नगर कोपल स्कूल के पास रहने वाले राममोहन दंडोतिया भिंड जिले के गांव बराई के रहने वाले थे। उनकी शादी वर्ष 2013 में अर्चना से हुई थी। राममोहन और अर्चना का दो साल का बेटा भी है। बीती रात शराब के नशे में धुत होकर राममोहन पत्नी से झगड़ रहा था। इस दौरान उसने पत्नी के साथ मारपीट भी कर दी थी। पत्नी ने डायल 100 पर फोन कर मदद मांगी थी।

डायल 100 मौके पर पहुंची पीएसओ पत्नी को पीट रहा था : सूचना के बाद कमला नगर की एफआरवी मौके पर पहुंची थी। जहां पति और पत्नी के बीच विवाद चल रहा था। पुलिस पति को एफआरवी में बिठाकर थाने ले जाने लगी।

तभी पति-पत्नी के बीच परामर्श कराने के लिए पुलिस उनकी पत्नी को भी एफआरवी में बिठाकर थाने ले जाने लगी। इसी बीच राम मोहन ने थाने से कुछ ही दूरी एफआरवी के अंदर ही खुदको कनपटी पर गोली मार ली। इस समय मृतक की पत्नी ठीक उनकी सामने वाली सीट पर बैठी थीं। पुलिस ने दोनों पति पत्नी को एफआरवी की पिछली सीट पर बिठा रखा था।

मामले की ज्यूडिशियल जांच :

अस्पताल की सूचना पर कमला नगर थाना प्रभारी मदन मोहन मालवीय और सीएसपी सतीश समादिया मौके पर पहुंचे थे। वहां अचज़्ना समादिया को समझाइश देकर शव पीएम के लिए हमीदिया अस्पताल रवाना कर दिया। पुलिस ने डायल 100 को सील कर बरामद कर लिया है। एफ एसएल की टीम डायल 100 से सविज़्स रिवाल्वर के प्रिंट समेत डायल 100 से अहम सबूत इकठ्ठा कर ले गई है।

Tags
Back to top button