प्रधानमंत्री को काला झंडा दिखाने और योगी-मोदी मुर्दाबाद के लगाए नारे, आरोपी महिला कोर्ट में पेश…

लखनऊ. बीजेपी सांसद मेनका गांधी के संसदीय क्षेत्र सुल्तानपुर में पूर्वांचल एक्सप्रेस वे पर पीएम मोदी को काला झंडा दिखाने वाली सपा नेत्री को पुलिस ने ना सिर्फ 24 घंटे हिरासत में रखा बल्कि उसके विरुद्ध विधिक कार्रवाई कर कोर्ट में पेश कर दिया.

PM को काला झंडा दिखाने वाली महिला पर एक्शन पुलिस मीडिया सेल द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार प्रभारी गोसाईगंज सिपाहियों के हमराह प्रधानमंत्री के आगमन पर अरवल कीरी करवत थाना क्षेत्र गोसाईगंज में शांति व्यवस्था व विधि व्यवस्था ड्यूटी में लगे थे.

प्रधानमंत्री का आगमन कार्यक्रम स्थल पर हो चुका था. पूर्वांचल एक्सप्रेसवे के उद्घाटन के पश्चात प्रधानमंत्री पूर्वांचल एक्सप्रेसवे को राष्ट्र को समर्पित करने के पश्चात उद्बबोधन कर रहे थे. उसी भीड़ में एक महिला रीता यादव खड़ी होकर काला झंडा दिखाकर शांति व्यवस्था में बाधा डाल रही थी.

हुआ क्या था?

बीजेपी सांसद मेनका गांधी के संसदीय क्षेत्र सुल्तानपुर में पूर्वांचल एक्सप्रेस वे पर पीएम मोदी को काला झंडा दिखाने वाली सपा नेत्री को पुलिस ने ना सिर्फ 24 घंटे हिरासत में रखा बल्कि उसके विरुद्ध विधिक कार्रवाई कर कोर्ट में पेश कर दिया. PM को काला झंडा दिखाने वाली महिला पर एक्शन पुलिस मीडिया सेल द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार प्रभारी गोसाईगंज सिपाहियों के हमराह प्रधानमंत्री के आगमन पर अरवल कीरी करवत थाना क्षेत्र गोसाईगंज में शांति व्यवस्था व विधि व्यवस्था ड्यूटी में लगे थे. प्रधानमंत्री का आगमन कार्यक्रम स्थल पर हो चुका था.

पूर्वांचल एक्सप्रेसवे के उद्घाटन के पश्चात प्रधानमंत्री पूर्वांचल एक्सप्रेसवे को राष्ट्र को समर्पित करने के पश्चात उद्बबोधन कर रहे थे. उसी भीड़ में एक महिला रीता यादव खड़ी होकर काला झंडा दिखाकर शांति व्यवस्था में बाधा डाल रही थी.

पुलिस ने महिला के विरुद्ध स्थानीय थाने पर मुकदमा अपराध संख्या 656/2021 धारा 153A (1)(B) पंजीकृत कर उक्त महिला को कोर्ट में भेजा गया. हुआ क्या था? बता दें कि पीएम की सुरक्षा में लगी फोर्स को खुली चुनौती देते हुए रीता यादव मंच के पास जब पहुंची और उसने काले झंडे दिखाए तो वहां खड़े सुरक्षा कर्मियों के हाथ-पांव फूल गए. महिला सशक्तिकरण की बात करने वाली सरकार के कारिंदों ने महिला का हाथ पकड़ कर उसे घसीटते हुए लेकर गए थे.

चुनावी मौसम में विपक्ष इसे एक बड़े मुद्दे की तरह देख रहा है और योगी सरकार और प्रशासन पर निशाना साधने का प्रयास कर रहा है. वैसे जिस महिला को पकड़ा गया है, अभी तक उनकी सफाई सामने नहीं आई है. उन्होंने इन आरोपों पर कुछ नहीं कहा है. ऐसे में लोगों को उनकी साइड की कहानी नहीं पता है.सपा नेत्री ने PM को दिखाए काले झंडे, सुरक्षा कर्मियों ने हाथ पकड़कर खींचा तो योगी-मोदी मुर्दाबाद के लगाए नारे।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button