इन देशों में भी पूजे जाते हैं श्रीराम, जन्मोत्सव के साथ निकाली जाती हैं शोभायात्रा

भारत में कुछ लोगों का मानना है कि भगवान राम की पूजा केवल हिंदुस्तान में ही की जाती है पर भगवान राम भारत में ही नहीं बल्कि पूरे विश्व में प्रसिद्ध है और भारत के अलावा कई देशों में इनकी पूजा की जाती है. कई देशों में राम के मंदिर हैं और श्रद्धालुओं के बीच उनका नाम बहुत ही आदर से लिया जाता है.

जानते हैं किन-किन देशों में रामनवमी के त्योहार की मान्यता है. रामनवमी का त्योहार भगवान विष्णु के सातवें अवतार भगवान राम के जन्मोत्सव के रूप में मनाया जाता है. इस दिन मां दुर्गा के नौ दिनों तक चलने वाले नवरात्र का समापन भी होता है.

थाईलैंड

थाइलैंड दक्षिण-पूर्वी एशिया का देश है, जिसकी राजधानी है बैंकॉक. यहां भगवान राम और रामायण का काफी महत्व दिया जाता है. थाइलैंड के राजा को भगवान श्रीराम का वंशज माना जाता है. यहां कई जगहों पर रामलीलाएं होती हैं और लोग राम के भजन गाते हैं. खास बात ये है कि ‘रामायण’ थाईलैंड का राष्ट्रीय ग्रंथ है. भगवान राम के अलावा थाइलैंड में शिव जी, भगवान विष्णु, इंद्र देव, सरस्वती देवी, गणेश जी समेत कई देवी देवताओं के सैकड़ों मंदिर है. यहां तक कि थाइलैंड सरकार का अधिकृत प्रतीक चिह्न ‘गरुड़’ है.

नेपाल

नेपाल के लोग भी भगवान राम को काफी महत्व देते हैं. यहां रामनवमी हिंदू त्योहारों के महत्वपूर्ण पर्व में से एक है. पूरे नेपाल में भगवान राम के कई मंदिर है. खासतौर पर रामनवमी वाले दिन मंदिरों को सजाया जाता है और हजारों की संख्या में लोग यहां पूजा के लिए आते हैं. कुछ इलाकों में भगवान राम की शोभायात्रा भी निकाली जाती है.

Back to top button