Uncategorized

हरियाणा की बेटी बनी MTV रोडीज-14 की विनर

हरियाणा की बेटी श्वेता मेहता ने MTV रोडीज राइजिंग-14 में अपनी जीत का झंडा गाड दिया है। कई हफ्तों तक कड़ी मेहनत करने के बाद आखिरकार नेहा धूपिया की टीम की श्वेता मेहता MTV रोडीज राइजिंग की विनर रही। श्वेता मेहता हरियाणा के फतेहाबाद की रहने वाली है। इस खिताब के लिए श्वेता का मुकाबला प्रिंस नरुला की टीम के बसीर अली से था। हालांकि, श्वेता का नाम शाम को 7 बजे टेलिकास्ट हुए फाइनल एपिसोड से पहले ही मीडिया में आ गया था। झांसी से शुरू हुआ रोडीज का ये सफर ग्वालियर, आगरा, अमरोहा और पानीपत से होते हुए कुरुक्षेत्र में खत्म हुआ।

हरभजन सिंह को कंधों पर उठाकर हुई थी शो में एंट्री
हरियाणा की इस धाकड़ बेटी ने प्रसिद्ध क्रिक्रेटर हरभजन सिंह को अपने कंधों पर उठाकर इस शो में शामिल हुई थी। दुनिया की सबसे श्रेष्ठ फिटनेस एथलीट में शामिल 28 साल की श्वेता मेहता जेराई वुमेन फिटनेस मॉडल चैंपियनशिप 2016 जीत चुकी हैं और अब यह खिताब जीता है।

पेशे से इंजीनियर हैं श्वेता
श्वेता पेशे से एक इंजीनियर हैं। श्वेता ने 2009 में जीजेयू, हिसार से बीटेक किया और आईटी में नौकरी करने के लिए बैंगलुरू चली गई। वहां 5 साल तक आईटी कंपनी में नौकरी की। श्वेता के पिता जनक मेहता आढ़ती हैं और मां कृष्णा हेड टीचर हैं। उनके परिवार में बड़े पापा सुभाष चंद्र, बड़ी मम्मी ईशा मेहता, तीन भाई प्रवेश, संदीप और सलील है।

अपने लक्ष्य के लिए छोड़ा शानदार लाइफ-स्टाइल
श्वेता मेहता के पास 70 हजार तनख्वाह वाली नौकरी थी। हफ्ते में दो दिन छुट्टी होती थी और दोस्तों और परिजनों का पूरा सपोर्ट था, लेकिन उन्होंने महसूस किया कि उन्हें किसी और क्षेत्र में काम करना चाहिए। इसके लिए उन्होंने अपने पैरेंट्स को समझाया और फिटनेस व बॉडी बिल्डिंग की दुनिया में कदम रखा। यहां कुछ समय में ही उन्होंने अपनी खास पहचान बना ली। फिटनेस एथलीट बनने के लिए श्वेता ने शानदार लाइफ-स्टाइल छोड़कर एथलीट की कड़ी लाइफस्टाइल को जीवन का लक्ष्य बना लिया। राह आसान नहीं थी, एक छोटे से शहर से आई लड़की के लिए फिटनेस वर्ल्ड में आकर नाम कमाना एक दूर का सपने जैसे था, आखिर कई चुनौतियां जो थी सामने, पर फिटनेस की दुनिया में नाम कमाने को श्वेता हर कुर्बानी देने को तैयार थी।

यहां तक पहुंचने के लिए किया कड़ा संघर्ष
श्वेता को यहां तक पहुंचने के लिए कड़ा संघर्ष करना पड़ा। श्वेता ने परिवार के विरोध के बावजूद बिकनी पहनी, इसके बाद फिटनेस में करियर बनाने के लिए उसे अपनी नौकरी छोड़नी पड़ी। बॉडी बिल्डर बनने के लिए महंगे प्रोटीन लेने के लिए खुद की सारी जमा पूंजी तक लगा दी। फिर भी बॉडी बिल्डिंग के लिए जरूरी न्यूट्रीटेट्स के लिए पैसों की कमी पड़ी तो श्वेता ने बड़ा घर छोड़कर छोटा घर ले लिया। श्वेता का कहना है कि इस कार्यक्रम में जीत हासिल करना उसका लक्ष्य था और उन्हें पूरा यकीन था कि वह इसे जीत लेंगी, जीत भी लिया।

फिल्मों में रोल मिलने से इंकार नहीं

श्वेता का कहना है कि अगर किसी फिल्मकार ने उन्हें बहुत शानदार रोल ऑफर किया तो उसे इंकार नहीं है, लेकिन फिलहाल फिटनेस उसका पहला और आखिरी प्यार है।

Tags
Back to top button