कटघोरा में सिख समुदाय ने गुरु नानक जयंती पर निकाली भव्य शोभायात्रा

अरविंद शर्मा

कटघोरा।

कार्तिक मास की गुरु पूर्णिमा पर गुरु नानक का जन्म हुआ था जिसको गुरु पूर्णिमा के रूप में मनाया जाता है। गुरु नानक सीखों के प्रथम गुरु है। गुरु नानक अपने व्यक्तित्व में दार्शनिक, योगी,गृहस्थ, धर्म सुधारक,समाजसुधारक, कवि,देशभक्त और विश्वबंधुत्व के सभी गुण समेटे थे।

कटघोरा में सिख समुदाय ने गुरु नानक जयंती के पावन पर्व पर नगर में भव्य शोभायात्रा निकाली। यह शोभायात्रा अहिरन नदी से प्रारंभ की गई और गुरुद्वारे तक गाजे बाजे के साथ तथा आतिश बाजी के साथ समापन किया।इस कार्यक्रम में बड़ी संख्या में सिख समुदाय ने हिस्सा लिया। गुरुद्वारा में सिख समुदाय के द्वारा लंगर का आयोजन भी किया जाता है जिसमे सभी लोग लंगर का आनंद लेते दिखाई पड़े।

1
Back to top button