सिंधी युवक समिति ने समिति ने निकाली लाल साईं झूलेलाल की भव्य शोभायात्रा

सिंधी समाज की महिलाओं ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया सिंधी डांडियो की मची धुम

– भरत मंगवानी

बिलासपुर: बिलासपुर सिंधी समाज के नव वर्ष लाल झूले लाल के जन्मोत्सव पर सिंधी युवक समिति ने एक भव्य शोभायात्रा निकालकर चेटीचंड महोत्सव बड़े धूमधाम से मनाया सिंधी युवक समिति के संयोजक एवं संरक्षक अमर बजाज के अनुसार सिंधी समाज के इष्ट देवता लाल साई झूलेलाल के जयंती पर जयंती पर झूलेलाल के जयंती पर जयंती पर सुबह 10:00 बजे एक भव्य शोभायात्रा इंद्रधनुष झांकियों के साथ बुधवारी बाजार से निकलकर बंधवापारा (हेमू नगर), गुरुनानक चौक, तोरवा नाका, जगमल चौक, दयालबंद, गांधी चौक, जूना बिलासपुर, कंवर राम कपड़ा बाजार के रास्ते से गोल बाजार, सदर बाजार, प्रताप चौक पुराने पुल से से सरकंडा, नए पुल से नेहरू चौक, हेमू कालानी चौक, जरहाभाटा के रास्ते से भक्त कंवर राम नगर (सिंधी कॉलोनी) में समाप्त हुई इस शोभायात्रा का स्वागत बिलासपुर सिंधी समाज की पूज्य सिंधी पंचायतें एवं समितियों ने ने कडा- कुहर, सेसा, फल-फ्रूट, मिठाई, ठंडा, इत्यादि प्रसाद के रूप में में वितरित कर भव्य स्वागत किया जुलूस में महिलाओं ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया.

 Sindhi Yuvaik Samiti commits the grand celebration of Lal Sai Jhulelal by committee

इस शोभायात्रा में लाल साई झूलेलाल की अद्भुत झांकी, सिंधी समाज के शिरोमणि संत कंवर राम की झांकी, एवं इंद्रधनुष सतरंगी झांकियों में शिव पार्वती गंगा माता का नित्य, राधा कृष्ण मयूरी के रूप में नित्य, सर्वप्रथम भगवान गणेश जी मूषक सवारियों के साथ, लाल झूलेलाल की सजीव झांकी झांकियों में दमा दम मस्त कलंदर एवं जिये मुहिजी सिंध ने सबका मोह लिया आयो लाल- झूलेलाल की उद्घोषणा ने पूरे बिलासपुर शहर को भक्तिमय बना बना दिया बिलासपुर की सिंधी समाज के हर वर्ग में महिलाएं बच्चे पुरूष वरिष्ठ जनों ने लाल झूलेलाल की गीतों गीतों पर सिंधी डांडिया खूब किया किया अंत में देर रात सिंधु विद्या मंदिर सिंधी कॉलोनी मे शोभा यात्रा समाप्त हुई तत्पश्चात सिंधी युवक समिति के अध्यक्ष अजीत थावरानी एवं समिति के संयोजक एवं संरक्षक अमर बजाज ने बिलासपुर सिंधी समाज का आभार प्रकट किया.

 Sindhi Yuvaik Samiti commits the grand celebration of Lal Sai Jhulelal by committee

तत्पश्चात देर रात बहराणा साहब की तिफरा तालाब में विधिवत पूजा-अर्चना कर विसर्जन की गई चेटीचंड महोत्सव को सफल बनाने में कल्याणदास लालवानी, अर्जुन बजाज, किशोर कृपलानी ,मनोहर खटवानी गोवर्धन दास आसवानी, विष्णुमल हंसपाल, अध्यक्ष अजीत थावरानी, अशोक बजाज, अमर बजाज, भगवानदास भोजवानी, श्याम थावरानी, राजेश चंदवानी, अमर छाबड़ा, झाम्मनदास चेतानी,मनीष गुरबाणी, तरुण श्यामदासानी, कैलाश श्यामनानी, दिलीप थावरानी, राजकुमार बजाज, खुशाल दास वाधवानी, मनोहर मेहररचंदानी समीर गुरर्बानी, राजेश श्यामनानी, सुरेश माधवानी, रमेश भोजवानी, किशनचंद मखीजा, रवि थावरानी, राजकुमार सुखवानी, विक्की आहूजा अनिल टहिल्याणी, हीरानंद छुगानी, राजपाल थावरानी, दीपक सोनी, कृष्णकुमार खत्री, विक्की माखिजा सन्नी मनीष लाहोरानी इत्यादि विशेष रूप से लगे हुए थे,

Back to top button