सिरपुर बौद्ध महोत्सव 12 से 14 मार्च तक,पेड़ों पर पेंटिंग कर दिखाई अपनी कला

छात्र-छात्राओं सहित अन्य लोगों के अन्दर छुपी प्रतिभाएं उभरकर सामनें आयी,सिरपुर बौद्ध महोत्सव एवं राम वन गमन पथ को सजाने संवारने पेंटिंग

महासमुन्द 10 मार्च 2021 : आज बुधवार को कई छुपी हुई प्रतिभाएं उभरकर सामने आयी। मौका था तीन दिवसीय अंतराष्ट्रीय सिरपुर बौद्ध महोत्सव तैयारियों का। महासमुन्द के कुहरी मोड़ (नेशलन हाईवे-53) से सिरपुर जाने वाली सड़क पर आज सबेरें से ही कुछ अलग खुशनूमा नजारा देखनें को मिला।

नेहरू युवा केन्द्र संगठन

राष्ट्रीय सेवा योजना के सदस्य, छात्र-छात्राएं एवं नेहरू युवा केन्द्र संगठन के लोगों के द्वारा सिरपुर एवं राम वन गमन पथ पर सड़क के दोनों किनारों पर लगे पेड़ो पर हाथों का बेहतरीन हुनर दिखाया। इन सभी ने पेड़ों के तनों पर और सड़क किनारें बेतरतीब पड़े बड़े-बड़े पत्थरों पर बौद्ध के चित्र के साथ छत्तीसगढ़ की संस्कृति, परम्परा और रीति-रिवाजों के साथ ही देवी-देवताओं के बेहतरीन चित्र उकेरे और अधिकारियों की वाहवाही लुटी। अब यह मार्ग पूरी तरह महोत्सव के लिए सज धजकर तैयार हो गया है।

कलेक्टर डोमन सिंह ने बसना

कलेक्टर डोमन सिंह ने बसना के आईटीआई के छात्र पंकज सिदार द्वारा की गई पेंटिंग की खुले दिल से सराहना की इसी के साथ उन्होंने शामिल सभी छात्र-छात्राओं द्वारा की गई चित्रकारी की तारीफ की। इन सभी ने अपने टीम सदस्यों के साथ पेड़ों के तनों पर रंग-बिरंगे कलर के साथ बौद्ध, भगवान शंकर एवं अन्य तरह की चित्रकारी की। वहीं छात्राएं भी पिछे नहीं रहीं।

उन्होंने भी छत्तीसगढ़ की संस्कृति, परम्परा और रीति-रिवाज, वाद्य यंत्रों की खूबसूरत पेंटिंग की और आने-जाने वाले लोगों का मन मोहा। आज यह कार्यक्रम जल्दी सबेरे शुरू होकर शाम तक चला। इस मौकें पर जिले के विभिन्न विभागों जिला पंचायत, स्कूल शिक्षा, खेल एवं कल्याण विभाग के अधिकारी-कर्मचारियों ने पूरें जोश उत्साह के साथ आए। सिरपुर बौद्ध महोत्सव 12 से 14 मार्च तक,पेड़ों पर पेंटिंग कर दिखाई अपनी कला

सिरपुर बौद्ध महोत्सव

इस मौके पर कलेक्टर डोमन सिंह ने भी हाथों में पेंटिंग ब्रश के साथ पेड़ों के तनों पर चित्रकारी की। वहीं पुलिस अधीक्षक भी अपने आप को नहीं रोक पाए उन्होंने भी पेंटिंग की। कलेक्टर डोमन सिंह ने कार्यक्रम स्थल पर सिरपुर बौद्ध महोत्सव की तैयारियों का जायजा लिया। उन्होंने मंच व्यवस्था और डोम का भी अवलोकन किया। फाउंडेशन के अधिकारियों से भी बातचीत की। उन्होंने अधिकारियों को सभी जरूरी तैयारियों बिजली, पानी, शौचालय, साफ-सफाई, स्वास्थ्य चिकित्सा आदि के बारें में पूछा।

तीन दिवसीय सिरपुर बौद्ध महोत्सव 12 से 14 मार्च तक होगा। 12 मार्च को प्रातः 11. 00 बजे मुख्य मंच से शुभारम्भ होगा। यह आयोजन छत्तीसगढ़ हेरिटेज एंड कल्चरल फाॅउंडेशन द्वारा आयोजित है। महोत्सव में छत्तीसगढ़ी सांस्कृतिक कार्यक्रम के साथ संगोष्ठी अन्य कार्यक्रम भी आयोजित किए जायेंगे।

मुख्य कार्यपालन अधिकारी डाॅ. रवि मित्तल मंगलवार को अधिकारी-कर्मचारियों की बैठक लेकर रूपरेखा तैयार की और आज जल्दी सबेरे सभी को लेकर पुरातत्व नगरी सिरपुर के प्रमुख मार्ग कुहरी से सिरपुर स्थित पाॅच स्थानों पर छपोराडीह पंचायत भवन के पास, अचानकपुर रोड पास नाला के ऊपर, फुसेराडीह माईल्स स्टोन के पास, सिरपुर से ढाई किलोमीटर पहले साइनेज के पास सड़क के दोनों किनारों पर लगे वृक्षों के तनों पर आकर्षक कलर से पेंटिंग विभिन्न संस्थाओं के सहयोग और अधिकारी-कर्मचारियों द्वारा की गई।

Tags
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button