10वीं की परीक्षा पास कराने को फर्जी परीक्षार्थी बनी बहन, पुलिस ने पकड़ा

बच्चे शॉर्टकट के जरिए परीक्षाएं पास करना चाहते हैं, ऐसा ही एक सनसनीखेज मामला राजस्थान के बाड़मेर जिले में सामने आए हैं जिसमें होनहार बहन ने अपनी कमजोर बहन को अंग्रेजी की परीक्षा पास करने के लिए फर्जी स्टूडेंट बनकर उस परीक्षा में जाकर बैठ गई, लेकिन पकड़ी गई.

बाड़मेर जिले की एमबीसी राजकीय माध्यमिक विद्यालय में आज 10वीं की अंग्रेजी परीक्षा में परीक्षा दे रही लड़की को परीक्षा अधीक्षक ने पकड़ लिया. जब उससे पूछताछ की गई तो उसने बताया कि वह अपनी बहन की जगह परीक्षा देने के लिए आई थी ताकि वह अपनी बहन को 10वीं क्लास पास करवा सके लेकिन पुलिस के हत्थे चढ़ गई.

थानाधिकारी उगमराज सोनी के अनुसार इन दिनों 10वीं और 12वीं कक्षा की परीक्षाएं चल रही हैं. इसी दौरान आज एमबीसी कॉलेज के प्रशासन ने एक लड़की को पकड़ लिया जो कि फर्जी तरीके से परीक्षा दे रही थी. वह तब पकड़ में आई जब उसने हस्ताक्षर किए और हस्ताक्षर मिसमैच होने के कारण उसे संदिग्ध माना गया.

मामला दर्ज कर जांच शुरू

इसके बाद उससे पूछताछ की गई तो उसने कबूला कि वह अंग्रेजी का पेपर देने निंबलकोट निवासी पप्पू की जगह उसकी बहन मानी पेपर देने पहुंची थी. इस मामले में स्कूल प्रशासन की रिपोर्ट के आधार पर मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है.

स्कूल के प्रधानाचार्य कमल सिंह के अनुसार आज परीक्षा का दूसरा दिन था. कल भी दोस्त को फर्जी परीक्षा देते हुए पकड़ा गया था और आज एक बहन को फर्जी परीक्षा देते हुए पकड़ा है. यह अपने आप में बड़ी चौंका देने वाली बात है कि किस तरीके से बच्चे शॉर्टकट से पास होना चाहते हैं, लेकिन हम किसी भी फर्जी वाले को बर्दाश्त नहीं करेंगे.

ऐसा ही एक मामला गुरुवार को इसी स्कूल में सामने आया था जिसमें 12वीं की अंग्रेजी परीक्षा में दोस्त अपने दोस्त को पास करवाने के लिए फर्जी विद्यार्थी बन कर बैठ गया था लेकिन पकड़ा गया.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button