राष्ट्रीय

गौरी लंकेश की हत्या में शामिल 3 संदिग्धों के स्केच जारी

बेंगलुरु: पत्रकार एवं सामाजिक कार्यकर्ता गौरी लंकेश की हत्या की जांच कर रहे विशेष जांच दल (एसआईटी) ने आज तीन संदिग्धों के स्केच जारी किए। एसआईटी के प्रमुख बी के सिंह ने संवाददाताओं को बताया कि पुलिस ने तकनीकी जानकारियों और स्थानीय सूत्रों की मदद से दो मुख्य संदिग्धों की पहचान कर ली है। उन्होंने बताया कि एसआईटी को इन 2 लोगों पर ही संदेह है लेकिन चश्मदीदों ने एक तीसरे व्यक्ति का भी जिक्र किया है। पुलिस ने उसका स्केच भी जारी किया है।

पुलिस ने लोगों से मांगी मदद
सिंह ने लोगों से लंकेश के हत्यारों के बारे में अथवा हत्या से पहले उनके ठिकाने के बारे में कोई भी जानकारी मिलने पर पुलिस को सूचित करने का आग्रह किया है। उन्होंने कहा कि फिलहाल पुलिस के पास स्केच के अलावा कुछ नहीं है। अपराधी हत्या से पहले शहर में कम से कम 7 दिन ठहरे थे। उन्हें राजराजेश्वरी नगर में भी देखा गया था जहां गौरी लंकेश रहती थी। उन्होंने कहा कि एसआईटी को हत्या के पीछे लंकेश की पेशेवर जिंदगी का कोई संबंध नहीं लग रहा। राज्य सरकार ने दोषियों के बारे में जानकारी देने वालों को 10 लाख रुपये का इनाम देने की घोषणा की है।

सीसीटीवी फुटेज से हुई थी संदिग्ध की पहचान
आपको बता दें कि लंकेश मर्डर केस की जांच कर रही पुलिस के हाथ एक सीसीटीवी फुटेज लगी थी। जिसमें इस बात का खुलासा हुआ कि वारदात को अंजाम देने से पहले संदिग्धों ने गौरी के घर की रेकी की थी। बाइक पर आए संदिग्धों ने वहां तीन चक्कर लगाए थे। करीब 35 साल का एक संदिग्ध सीसीटीवी फुटेज में साफ दिखाई दिया। पहले यह माना जा रहा था कि आरोपियों ने गौरी लंकेश का पहले पीछा किया फिर घर के बाहर उन पर ताबड़तोड़ फायरिंग की लेकिन सीसीटीवी फुटेज के बाद पता चला कि आरोपी पहले से ही पत्रकार के घर के पास मौजूद थे।

Summary
Review Date
Reviewed Item
गौरी लंकेश
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *