हेल्थ

खुलकर मुस्‍कुराइए, क्‍योंकि आपकी मुस्‍कान कर सकती है कई बीमारियों की छुट्टी

आइए जानते हैं मुस्‍कुराने के कुछ और फायदे।

जो लोग मुस्‍कुराते हैं, वे ज्‍यादा अच्‍छे लगते हैं। होंठों पर खिली मुस्‍कान आपके सौंदर्य को कई गुना बढ़ा देती है। वहीं जब आप किसी से मुस्‍कुराते हुए मिलती हैं, तो वह मुलाकात यादगार हो जाती है। पर क्‍या आप जानती हैं कि मुस्‍कुराहट सिर्फ संबंधों को ही नहीं, बल्कि आपके स्‍वास्‍थ्‍य के लिए भी फायदेमंद है। आइए जानते हैं मुस्‍कुराने के कुछ और फायदे।

क्यों जरूरी है मुस्कुराहट?

अध्ययनों से पता चला है कि मुस्कुराहट एंडोर्फिन, प्राकृतिक दर्द निवारक, और सेरोटोनिन को रिलीज करती है। ये तीनों न्यूरोट्रांसमीटर मिलकर हमें सिर से पैर तक स्वस्थ रखते है। न केवल ये प्राकृतिक रसायन आपके मूड को अच्छा करते हैं, बल्कि ये आपके शरीर को आराम देते हैं और शारीरिक दर्द को कम करते हैं।

केन्सास विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं ने निष्कर्ष दिया है कि मुस्कुराहट मानसिक तनाव की स्थिति में तनाव और हृदय गति कम करने के लिए शरीर की प्रतिक्रिया को कम करने में मदद करती है।

स्माइल के फायदे क्या है?

1.आपके मूड में बदलाव कर सकती है

जब कोई आपको देख कर मुस्कुराता है, तो कहीं न कहीं आप भी उसको देख के मुस्कुराने लगते हैं। यह मुस्कुराना आपके बुरे मूड को अच्‍छा करने में मदद करता है और साथ ही चिंता और अवसाद से जूझ रहे लोगों के लिए फायदेमंद होता है।

2010 के एक अध्ययन में पाया गया है कि जब आप लो महसूस कर रहे होते हैं, तो मुस्कुराने से मदद मिलती है जिससे आपका मूड बेहतर होता है और सकारात्मक विचारों में वृद्धि होती है।

2.रक्तचाप को कम करने में सहायक

मुस्कुराना और हंसना रक्तचाप को कम करने में मदद करता है, जो आपके दिल के स्वास्थ्य के लिए अच्छी खबर है।

3.तनाव से राहत

आपके शरीर को आपकी हंसी तनाव जैसी स्थितियों से निपटने में मदद करता है। साइकोलॉजिकल साइंस में प्रकाशित 2015 के एक अध्ययन में पाया गया कि मुस्कुराने से तनावपूर्ण कार्यों के दौरान हृदय गति कम हो सकती है।

तनाव आमतौर पर हृदय गति और रक्तचाप में वृद्धि का कारण बनता है। इसलिए, तनाव को बनाए रखने पर मुस्कान आपको मनोवैज्ञानिक और शारीरिक स्वास्थ्य दोनों तरह के लाभ प्रदान करती है।

4.इम्यूनिटी बूस्टर

मानो या न मानो, हंसी आपके शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा देने में मदद करती है। मायो क्लिनिक की रिपोर्ट है कि हँसी और सकारात्मक विचार आपके मस्तिष्क में सिग्नलिंग मोलेक्यूल को जारी करते हैं जो तनाव और बीमारियों से लड़ते हैं, जबकि नकारात्मक विचार आपके शरीर की प्रतिरक्षा को कम करते हैं।

5.दर्द से राहत मिलती है

मायो क्लिनिक की रिपोर्ट है कि हंसी आपके शरीर को अपने स्वयं के प्राकृतिक दर्द निवारक जारी करने का कारण बनती है। और 2012 के एक अध्ययन में पाया गया कि सामाजिक हंसी आपके दर्द सहने की सीमा को बढ़ाती है, जिससे उच्च दर्द सहिष्णुता पैदा होती है।

इसलिए, यदि आप किसी चोट, बीमारी या पुरानी बीमारी के कारण दर्द में हैं, तो एक मजेदार फिल्म देखें, एक कॉमेडी शो में भाग लें या उन दोस्तों और परिवार के साथ घूमें जो आपको मुस्कुराते हैं।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button