क्राइम

अवैध नशीला मादक पदार्थों के साथ तस्कर गिरफ्तार

अवैध नशीली पदार्थों के तस्करी में रोक लगाने हेतु इस तरह के कारोबार पर लगे लोगो पर तत्काल कार्यवाही किया जाए।

ब्युरो चीफ : विपुल मिश्रा

संवाददाता : शिव कुमार चौरासिया

बलरामपुर : अवैध नशीली व मादक पदार्थों के तस्करी में रोक लगाने के लिए आईजी सरगुजा द्वारा रेंज के सभी जिले के एसपी को आवश्यक दिशा निर्देश दिया गया है बलरामपुर एसपी रामकृष्ण साहू व एडिशनल एसपी प्रशांत कतलम द्वारा भी जिले के सभी थाना व चौकी प्रभारियों को निर्देश दिया गया है कि अवैध नशीली पदार्थों के तस्करी में रोक लगाने हेतु इस तरह के कारोबार पर लगे लोगो पर तत्काल कार्यवाही किया जाए।

एसडीओपी कुसमी मनोज तिर्की के मार्गदर्शन में कुसमी पुलिस ने मंगलवार को नगर के एक युवक के घर में छापेमारी कार्यवाही करते हुए उसके पास से काफी मात्रा में प्रतिबंधित कफ सिरप बरामद कर उसके खिलाफ एनडीपीसी एक्ट के तहत कार्यवाही कर न्यायलय में पेश किया गया है वहाँ के आदेश पर उसे जेल दाखिल किया जा रहा है। कार्यवाही के बाद चोरी चुपके इस तरह के अवैध कारोबार में लगे लोगो मे हड़कंप मच गई हैं।

कफ सिरप का बड़ा खेप

मंगलवार को कुसमी पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि कफ सिरप का बड़ा खेप झारखंड से कुसमी नगर में लाकर क्षेत्र में खपाने की योजना है इसकी जानकारी लगते ही नवपदस्थ थाना प्रभारी कुसमी प्रकाश राठौर ने उच्च अधिकारियों के निर्देश पर टीम गठित कर नगर के वार्ड क्रमांक 3 तहसील पारा में छापेमारी कार्यवाही करते हुए 32 वर्षीय यासीन पिता नूर मोहम्मद उम्र के घर से प्रतिबंधित नशीला महारेक्स कम्पनी का 100-100 एमएल की 170 शीशी कीमत करीब 22950 रुपये एवं आनरेक्स 100-100 एम एल की 80 शीशी जिसकी कीमत करीब 9600 रुपये इस तरह से 31550 रुपये की प्रतिबंधित कफ सिरप की कुल 250 सीसी जप्त कर आरोपी मो यासीन खान के खिलाफ 21 एनडीपीएस एक्ट के तहत अपराध दर्ज कर आरोपी को रिमांड पर न्यायालय में पेश किया गया।

कार्यवाही में निरीक्षक थाना प्रभारी प्रकाश राठौर, एएसआई भगवती प्रसाद कुर्रे, प्रधान आरक्षक रोशन लकड़ा, आरक्षक अमरेंद्र सिंह ,सागर सिंह ,बाबूलाल पैकरा, राधेश्याम पैकरा, राजेंद्र कश्यप, संदीप बेक, अनिल साहू ,धीरेंद्र चंदेल महिला आरक्षक संगम एवं सुचिता शामिल रहे।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button