गंदगी के बीच नाश्ते का ठेला, आम जनता जनप्रतिनिधियों की मनमानी का शिकार

भरत मंगवानी:

बिलासपुर: बिलासपुर शहर के लोगो के लिए गंदगी में जीना अब आम बात हो गयी है. ना शहर के विधायक को इसकी चिंता है ना शहर के महापौर और निगम आयुक्त इसकी सुध लेने कभी आये है.

शहर के सबसे व्यस्ततम क्षेत्र बस स्टैंड से सी एम डी चौक के रास्ते मे नास्ते और खाने के ठेले लगते है. चोंकाने वाली बात यह है कि भारी गन्दगी और बदबू के बीच ठेले वाले खड़े होकर अपना सामान बेच रहे है और लोग खा रहे है इससे बीमारी बढ़ने की संभावना बहुत ज्यादा है.

निगम के किसी अधिकारी कर्मचारी और यह तक शहर विधायक की इन मूलभूत सुविधाओं के तरफ ध्यान नही गया ना उन्होंने ध्यान देना उचित समझा. अब तो महापौर का कार्यकाल भी महज 5 माह का बचा है तो क्यों ना खुद के मजे कर लिए जाए यही सोच कर महापौर भी ध्यान देना बंद कर दिए है.

कुल मिलाकर आम जनता इन जनप्राधिनिधियो की मनमानी का शिकार हो रही है.

Back to top button