अब तक 25 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों ने पेट्रोल और डीजल पर वैट में कमी कर दी है-केंद्र

केंद्र ने कहा है कि उपभोक्ताओं को राहत देने के लिए अब तक 25 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों ने पेट्रोल और डीजल पर वैट में कमी कर दी है। इस महीने की 3 तारीख को पेट्रोल और डीजल पर केंद्रीय उत्पाद शुल्क को पांच रुपये और दस रुपये कम करने के केंद्र सरकार के फैसले को देखते हुए किया गया। उपभोक्ताओं को राहत देने के लिए पेट्रोल और डीजल पर वैट कम करने का राज्यों से भी आग्रह किया गया था।

जिन राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों ने पेट्रोल और डीजल में वैट में अभी तक कोई कमी नहीं की है, वे हैं–महाराष्ट्र, राष्‍ट्रीय राजधानी दिल्ली, पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु, तेलंगाना, आंध्रप्रदेश, केरल, झारखंड, छत्तीसगढ़ और राजस्थान। केंद्र शासित प्रदेश लक्षद्वीप की सरकार केरल द्वारा वैट भुगतान किए गए पेट्रोल और डीजल की खरीद करती है। वर्तमान में, लक्षद्वीप में पेट्रोल और डीजल पर कोई कर नहीं है।

पंजाब में वैट में कटौती के बाद, पेट्रोल की कीमत में सबसे अधिक 16 रुपये 2 पैसे प्रति लीटर की कमी आई है, इसके बाद केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख में 13 रुपये 43 पैसे और कर्नाटक में 13 रुपये 35 पैसे की कमी आई है। अंडमान और निकोबार में पेट्रोल की कीमत सबसे सस्‍ती 82 रुपये 96 पैसे प्रति लीटर है। ईटानगर में यह 92 रुपये 2 पैसे प्रति लीटर है। जयपुर में पेट्रोल की कीमत 117 रुपये 45 पैसे प्रति लीटर, जबकि मुंबई, में 115 रुपये 85 पैसे है।

केंद्रशासित प्रदेश लद्दाख में डीजल की कीमत में सबसे अधिक 19 रुपये 61 पैसे प्रति लीटर की कमी आई है। कर्नाटक में 19 रुपये 49 पैसे और पुद्दुचेरी में 19 रुपये 8 पैसे की कमी आई है। अंडमान-निकोबार में डीजल की कीमत सबसे सस्ती 77 रुपये 13 पैसे प्रति लीटर है।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button