राष्ट्रीय

कोरोना वैक्सीन से अब तक 600 को साइड इफेक्ट, स्वास्थ्य मंत्री बोले- यह बात.

स्वास्थ्य मंत्री डॉ। हर्षवर्धन ने कहा, कोरोना को अगर जड़ से खत्म करना है तो वैक्सीन लगवाना जरूरी है।

नई दिल्ली। देश में कोरोना (Corona) की जंग जीतने के लिए 16 जनवरी से टीकाकरण अभियान (Vaccine Campaign) की शुरुआत की जा चुकी है। कोरोना टीकाकरण (Corona Vaccination) के पहले चरण का आज छठा दिन है और अब तक 6.31 लाख कोरोना वॉरियर्स (Corona Warriors) को वैक्सीन दी जा चुकी है। इस बीच खबर आई है कि देश में करीब 600 लोगों में कोरोना वैक्सीन का साइड इफेक्ट देखने को मिला है।

कुछ राज्यों में कोरोना वैक्सीन लगाने के बाद मौत होने तक की खबरें भी मिली हैं। हालांकि अभी मौत के सही कारण का पता नहीं चल सका है। कोरोना वैक्सीनेशन के बाद आ रही साइड इफेक्ट पर बात करते हुए स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कि सच्चाई यही है कि वैक्सीन पूरी तरह सुरक्षित और प्रभावी है। उन्होंने कहा कि अभी तक जो भी साइड इफेक्ट के मामले सामने आए हैं, वो सामान्य हैं। वैक्सीनेशन से पहले ही कुछ साइड इफेक्ट के बारे में बताया गया था। किसी भी वैक्सीनेशन में ऐसा होता है।

स्वास्थ्य मंत्री डॉ। हर्षवर्धन ने कहा, कोरोना को अगर जड़ से खत्म करना है तो वैक्सीन लगवाना जरूरी है। ये दुर्भाग्यपूर्ण है कि कुछ लोग राजनीतिक फायदा लेने के लिए वैक्सीनेशन को लेकर गलत बातें फैला रहे हैं। उन्होंने कहा कि इसका असर कई जगह पर देखने को मिला है और कुछ लोग वैक्सीन लगवाने में कतरा रहे हैं। सरकार बिल्कुल भी किसी की सेहत के साथ खिलावाड़ नहीं करेगी। सभी को सुरक्षित रखना हमारी जिम्मेदारी है।’

16 जनवरी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना टीकाकरण अभियान की शुरुआत की थी। कोरोना टीकाकरण अभियान के पहले दिन 2,07,229, दूसरे दिन 17,072, तीसरे दिन 1,48,266, चौथे दिन 1,77,368 कोरोना वॉरियर्स को वैक्सीन दे गई थी। देश की राजधानी दिल्ली की बात करें तो ​कोरोना टीकाकरण अभियान के चौथे दिन 4 कोरोना वॉरियर्स में वैक्सीन के कारण साइड इफेक्ट देखने को मिले। इनमें से 3 को डिस्चार्ज कर दिया गया और एक की राजीव गांधी हॉस्पिटल में निगरानी की जा रही है।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button