छत्तीसगढ़

प्रदेश में अब तक 7 लाख 42 हजार मानक बोरा तेन्दूपत्ता संग्रहित

अवैध रूप से आने वाले तेन्दूपत्ता पर कड़ी निगरानी रखने के निर्देश

रायपुर : प्रदेश के वनांचल क्षेत्रों में तेन्दूपत्ता संग्रहण कार्य तेजी से चल रहा है। चालू सीजन में 16 लाख 71 हजार मानक बोरा संग्रहण के लक्ष्य के विरूद्ध अब तक 7 लाख 42 हजार मानक बोरा तेन्दूपत्तंे का संग्रहण किया जा चुका है। अपर मुख्य सचिव वन, सी.के. खेतान ने संग्रहण कार्य की समीक्षा के दौरान वन अधिकारियों को संग्रहण कार्य की सतत् मॉनिटरिंग और पारिश्रमिक भुगतान समय पर करने के निर्देश दिए।

अपर मुख्य सचिव वन ने अधिकारियों से कहा कि पड़ोसी राज्यों से अवैध रूप से तेन्दूपत्ता आवक की संभावना को देखते हुए कड़ी निगरानी रखी जाए। बैठक में प्रधान मुख्य वन संरक्षक ने बताया कि तेन्दूपत्ता संग्र्रहण के चालू सीजन में संग्राहक परिवारों को कुल 700 करोड़ रूपए का पारिश्रमिक भुगतान किया जाना है। इसके लिए धनराशि की व्यवस्था कर ली गई है।

उन्होंने बताया कि तेन्दूपत्ता संग्राहक परिवारों को 375 करोड़ रूपए की राशि भुगतान के लिए जिला यूनियनों को भेजी गई है। यह राशि समितियों में भुगतान के लिए स्थानांतरित कर दी गई है। दंतेवाड़ा, दक्षिण कोण्डागांव, केशकाल एवं नारायणपुर जिला यूनियनों में शत्-प्रतिशत संगहण लक्ष्य पूर्ण कर लिया गया है।

इसके अलावा बस्तर में लक्ष्य का 75 प्रतिशत, गरियाबंद 78 प्रतिशत और बीजापुर जिले में 70 प्रतिशत संग्रहण कार्य पूर्ण कर लिया गया है। संग्रहण कार्य आगामी 15 से 20 दिनों के भीतर पूर्ण कर लिया जाएगा।

Tags
Back to top button
%d bloggers like this: