BHU लाठीचार्ज पर उबला सोशल मीडिया, लोग बोले- लड़कियां गाय होतीं तो ऐसा नहीं होता?

सोशल मीडिया ट्विटर पर #अबकी_बार_बेटी_पर_वार हैशटैग टॉप लिस्ट में ट्रेंड कर रहा है. इस हैशटैग पर दो बजे तक 15 हजार से अधिक ट्वीट किए गए हैं.

इस हैशटैग के साथ ज्यादातर ट्वीट बनारस हिन्दू यूनिवर्सिटी से जुड़ा हुए हैं. यूनिवर्सिटी में सुरक्षा की मांग करती लड़कियों पर पुलिस लाठी चार्ज को लोग ‘बेटी पर वार’ बता रहे हैं.

रोहित त्यागी (@Rohitk_tyagi) ने लिखा है कि देश की बेटियों को डॉटर्स डे पर बीजेपी ने क्या गिफ्ट दिया है- लाठीचार्ज और बाल पकड़कर घसीटा जाना.

शाहिद खान (@sky198_khan) ने लिखा कि बेटी पढ़ाओ, बेटी बचाव, अपना हक मांगे तो उनपर डंडा बरसाओ.

 

राधिका गुप्ता (@Radhika88538358) लिखती हैं कि अगर अब भी आप अपनी चुप्पी नहीं तोड़ेंगे तो साफ है कि इस देश में लड़कियों की कोई वैल्यू नहीं है.

हर्ष कुमार (@HarshKu41095706) ने लिखा है कि बीजेपी के किसी ने भी पुलिस लाठीचार्ज और वीसी की कार्रवाई का विरोध नहीं किया है.

कई लोगों ने लड़कियों पर पुलिस कार्रवाई को पीएम के बनारस दौरे और रविवार को उनके मन की बात कार्यक्रम से भी जोड़ते हुए मोदी की आलोचना की है.

सलमान शेख (@iamsalmansheikh) लिखते हैं कि अगर वे लड़कियों की जगह पर गाय होतीं तो सुप्रीम सेवक जरूर कुछ करते.

मनोज कुमार साहू (@ManojSahuG) केंद्र और राज्य सरकार की आलोचना करते हुए लिखते हैं कि इन सरकारों के रहते हुए लड़कियों की हिम्मत कैसे हुई कि वे सेक्शुअल हरैसमेंट के खिलाफ न्याय की मांग करें ?

अमित मिश्रा ने लिखा कि (@Amitjanhit) ने लिखा कि कभी मोदी जी ने चुनाव में कहा था कि मुझे गंगा मैया ने बुलाया है.

आज BHU की छात्राएं उनको पुकार रही हैं, कहां हैं वे?? शिखर नेगी (@shikhar4813) ने लिखा है कि गाय को माता और बेटियों को लाठी, यही है मोदी का नया भारत?

Back to top button