मीडियाकर्मियों से बदसलूकी करने से बाज नहीं आ रहे भाजपा के कुछ नेता

पत्रकारों से धक्का-मुक्की करने के साथ कर रहे रौब दिखाकर धमकाने का भी काम

रायपुर। राजधानी रायपुर के तेलीबांधा मरीन ड्राइव में पार्किंग शुल्क के मुद्दे को लेकर महापौर एजाज ढेबर की बाइट लेने मीडियाकर्मी गए थे। इस दौरान वहां मौजूद निगम में उप नेता प्रतिपक्ष और भाजपा पार्षद मनोज वर्मा से मीडियाकर्मियों ने गुजारिश की कि थोड़ी कुर्सी को हटा लेंगे क्या, ताकि महापौर की बाइट ली जा सके, इतने में मनोज वर्मा गुस्से में बेकाबू होकर बदसलूकी करने लगे।

उन्होंने पत्रकारों से कहा कि महापौर की बाइट लेनी है तो बाहर रहना चाहिए। बाहर से लीजिए, पहले हमारा अधिकार है। पार्षद की बदमिजाजी की यह हरकत वीडियो कैमरे में रिकार्ड होकर इंटरनेट मीडिया पर तेजी से वायरल हो गई।

वीडियो में मनोज वर्मा गुस्से में पत्रकारों को धमकाते दिखाई दे रहे हैं। वीडियो देखकर लग रहा है अगर सरकारी दफ्तर नहीं होता तो पत्रकारों के साथ मारपीट करने से भी वे पीछे नहीं हटते। हालांकि इस दौरान वहां मौजूद निगम नेता प्रतिपक्ष मीनल चौबे समेत अन्य पार्षदों ने बीच-बचाव कर विवाद को शांत कराया।

हो गई थी गलतफहमी-नेता प्रतिपक्ष

पत्रकारों से बदतमीजी मामले में निगम नेता प्रतिपक्ष मीनल चौबे ने पार्षद मनोज वर्मा का बचाव करते हुए कहा कि गलतफहमी के कारण ऐसा हो गया था। बाद में सब कुछ सामान्य हो गया।

माफी मांगें पार्षद- एजाज ढेबर

महापौर एजाज ढेबर ने कहा कि पार्षद को बताने की जरूरत नहीं है कि मेरे कक्ष में कौन आएंगे कौन जाएंगे। यह अनुशासनहीनता है। घटना के लिए मैं खेद प्रकट करता हूं। किसी भी जनप्रतिनिधि को इस तरह का व्यवहार शोभा नहीं देता। इसके लिए उन्हें माफी मांगनी चाहिए। उनकी बदतमीजी से मैं खुद हैरान हूं कि पार्षद ऐसा कर सकते हैं।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button