बंद पड़ी शाहीन बाग को खुलवाने कुछ स्थानीय लोगों ने किया प्रदर्शन

नई दिल्ली:शाहीन बाग में लंबे समय से नागरिकता संशोधन अधिनियम (CAA) के खिलाफ चल रहा आंदोलन दिल्ली सहित पूरे देश में चर्चा का मुद्दा बन गया है. शाहीन बाग के बाद देशभर के शहरों में सीएए के खिलाफ आंदोलन शुरू हो गया है.

कानून के तहत केंद्र सरकार ने पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश से आए अल्पसंख्यकों हिंदू, जैन, बौद्ध, सिख, पारसी, व ईसाई शरणार्थियों को भारतीय नागरिकता देने के प्रावधान वाला नागरिकता संशोधन कानून लागू किया है.

वहीं बंद पड़ी शाहीन बाग को खुलवाने कुछ स्थानीय लोगों ने प्रदर्शन किया. बता दें नागरिकता संशोधन अधिनियम (CAA) के विरोध में करीब 50 दिनों से दिल्ली एक अहम सड़क पर प्रदर्शनकारी बैठे हुए हैं.

प्रदर्शनकारियों का कहना है कि शाहीन बाग में चल रहे आंदोलन की वजह से उन्हें काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. प्रदर्शनकारी लगातार नारेबाजी कर रहे हैं हालांकि पुलिस ने उन्हें धरना स्थल पर जाने से पहले ही रोक लिया है.

Tags
Back to top button