राष्ट्रीय

कुछ शरारती तत्वों ने गाय को खाने में खिलाया विस्फोटक पदार्थ

26 मई से डॉक्टर गाय का कर रहे हैं इलाज

नई दिल्ली: हिमाचल प्रदेश के बिलासपुर में शिकारियों द्वारा जंगली जानवरों के शिकार के लिए खाने के सामान में विस्फोटक रखा गया. गाय द्वारा विस्फोटक पदार्थ खाने पर
उसके जबड़े में गहरी चोट लग गई है. जिसका 26 मई से डॉक्टर गाय का इलाज कर रहे हैं.

बिलासपुर पशुपालन विभाग के उप निदेशक ने बताया कि घटना के वक्त गाय गर्भवती थी. अभी उसने एक बछड़े को जन्म दिया है. गाय का अभी भी इलाज चल रहा है. लेकिन उसे गंभीर चोट आई है. गाय की ऊपरी और निचले जबड़े की हड्डियां उड़ गई हैं और उसे काफी चोट आई है.

बहरहाल, गाय के मालिक गुरुदयाल सिंह की शिकायत पर उसके एक पड़ोसी को गिरफ्तार कर लिया गया है. साथ ही उसके खिलाफ आईपीसी की कई धाराओं और पशु क्रूरता की रोकथाम की धारा 11 के तहत एफआईआर दर्ज की गई है. बिलासपुर में झंडुत्ता पुलिस स्टेशन के एसएचओ ने बताया कि आरोपी को कोर्ट में पेश किया गया है.

बिलासपुर के पुलिस अधीक्षक दिवाकर शर्मा ने बताया कि नंद लाल को पुलिस ने शनिवार को गिरफ्तार कर लिया. सिंह ने इस संबंध में एक वीडियो फुटेज बनाई थी जो सोशल मीडिया पर वायरल हो गई थी.

शर्मा ने बताया कि पुलिस ने एक चिकित्सकीय दल के साथ गांव में एक अपराध स्थल का दौरा किया था. चिकित्सकीय दल ने पाया कि गाय के मुंह एवं जबड़े में गंभीर चोटें आई हैं, जिसके बाद उसे ‘तत्काल चिकित्सकीय सहायता’ दी गई.

उन्होंने बताया कि इस मामले में 26 मई को मामला दर्ज किया गया था. यह घटना ऐसे समय में सामने आई है, जब कुछ ही दिन पहले केरल के पलक्कड़ जिले की वेलियार नदी में एक गर्भवती हथिनी की मौत हो गई थी. उसे किसी ने संभवत: विस्फोटकों से भरा अनानास खिला दिया था, जिससे उसकी मौत हो गई थी.

Tags
Back to top button