पिस्टल भिड़ाकर एक शख्स को गोली मारने की धमकी दे रहे कुछ बदमाश

वीडियो के आधार पर पुलिस कार्रवाई करने की बात कह रही

भोजपुर:बिहार के भोजपुर के सहार थाना के बरूही गांव से एक विडियो सामने आया है. वीडियो में कुछ बदमाश यह कहते रहे हैं, ‘अभी के अभी ठोक देम, मार के लाश गिरा देम’. कुछ व्यक्ति लाठी-डंडे के साथ भी दिख रहे हैं जो गाली-गलौज कर रहे हैं. वीडियो के आधार पर पुलिस कार्रवाई करने की बात कह रही है

वीडियो के आधार पर जांच कर होगी कार्रवाई

दावा किया जा रहा है कि वायरल वीडियो सहार थाना क्षेत्र के बरूही गांव का है.

यह पूरा मामला जमीन विवाद से जुड़ा है. दरअसल, बरूही गांव के महाराज प्रसाद अपनी पुस्तैनी जमीन पर मकान बना रहे हैं, जिसका रकबा 38 डिसमिल है. यह जमीन उनकी पत्नी लालमुनी देवी ने अपने ससुर शिवनाथ साह से बैय करा लिया था. उसी जमीन पर ये लोग मकान बना रहे हैं, जो गांव के ही कुछ दबंगों की आंख में गड़ रहा है. दबंगों ने हथियार के बल पर निर्माण को रोक दिया है.

डर के मारे काम को कराया गया बंद

इस घटना के संबंध में पीड़ित लालमुनी देवी के बेटे सुमित कुमार ने बताया कि इसी सप्ताह वह लोग अपना नए घर का निर्माण करवा थे कि इसी बीच गांव के ही रासबिहारी राय और योगेन्द्र राय के पुत्र अनिल राय और अरूण राय निर्माण

स्थल पर हथियार के साथ आ धमके और काम बंद कराने के लिए मजदूरों और उन्हें गालियां देने लगे. जब उसके पिता महाराज प्रसाद ने विरोध किया तो उन लोगों ने पिस्टल निकाल लिया और जान मारने की धमकी देने लगे. साथ ही काम कराने के बदले में भारी भरकम रकम रंगदारी के तौर पर देने की मांग करने लगे. जान माल की डर से पिता ने काम बंद करा दिया.

सुमित ने बताया कि दबंगों के खिलाफ उन लोगों ने सहार थाना और स्थानीय सर्किल अफसर को भी जानकारी दी लेकिन दोनों ने पिस्टल लहरा रहे दबंगों के खिलाफ कार्रवाई करने से इनकार कर दिया. थाने में सुनवाई नहीं के बाद महाराज प्रसाद ने धमकी देने वालों के खिलाफ आरा के डीएसपी को एक आवेदन देकर अपने जान माल की सुरक्षा के लिए गुहार लगाई है.

आवेदन मिलते ही की जाएगी कार्रवाई

सहार के थानाध्यक्ष ने बताया कि ये मामला उनके संज्ञान में आया है. उन्होंने बताया कि वायरल वीडियो थोड़े दिन पहले का है. जब वो इस थाने के प्रभारी नहीं थे. हालांकि मामला उनके ही थाना क्षेत्र का है. इसलिए वे कार्रवाई में जुटे हैं. उन्होंने बताया कि पीड़ित परिवार को उन्होंने थाने पर बुलाया है. आवेदन मिलते ही विधिसम्मत कार्रवाई की जाएगी.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button