चुनाव के समय कुछ पार्टियों को कर्ज का चढ़ जाता है बुखार: पीएम मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार को गोरखपुर पहुंचे, उन्होंने यहां किसान सम्मान निधि योजना समेत कई योजनाएं लॉन्च कीं

गोरखपुर।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार को गोरखपुर पहुंचे, उन्होंने यहां किसान सम्मान निधि योजना समेत कई योजनाएं लॉन्च कीं. रैली में उन्होंने विपक्ष पर जमकर हमला बोला. उन्होंने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री का नाम लिए बिना कहा कि जो राज्य सरकारें सूची उपलब्ध नहीं कराएंगी किसानों बददुआएं उनकी राजनीति खत्म कर देंगी.

पीएम मोदी ने कहा कि आज एक करोड़ एक लाख किसानों के खाते में पहली किस्त के रूप में 2000 रुपये पहुंच गए हैं, उन्होंने कहा कि कुल 12 करोड़ किसानों के खाते में 31 मार्च तक 2000 रुपये की पहली किस्त के पैसे पहुंच जाएंगे.

पीएम ने दावा किया कि यह अफवाह फैलाई जा रही है कि मोदी पहली किस्त देगा, दूसरी किस्त देगा, तीसरी किस्त देगा. बाद में पैसे वापस ले लेगा. पीएम ने कहा कि यह अफवाह है.

उन्होंने किसानों से वादा लिया कि आप क्षेत्र में जाकर हर आदमी को बताएं कि यह कोरी अफवाह है और कोई उनके पैसे वापस नहीं ले सकता. मोदी भी आपके पैसे वापस नहीं ले सकता.

पीएम ने सपा-बसपा के गठबंधन पर निशाना साधते हुए कहा कि इस योजना को लेकर किसी के बहकावे में न आएं. तमाम मिलावटी लोगों ने जब सुना कि इस योजना के बाद सारे किसान मोदी मोदी करने लग गए तो वह यह अफवाह फैलाने में लग गए. उन्होंने कहा कि जिन किसानों के पास 5 एकड़ या इससे कम जमीन है उसे इसका लाभ मिलेगा.

चुनाव आते ही कर्जमाफी का बुखार चढ़ जाता है

पीएम मोदी ने कहा कि जब चुनाव का समय आता है तो कुछ पार्टियों को कर्जमाफी का बुखार चढ़ जाता है. बीजेपी का मानना है कि किसानों को इतना सशक्त बना दिया जाए कि उन्हें कर्ज की जरूरत ही न पड़े.

यूपीए सरकार ने 2009 में 6 लाख करोड़ रुपये कर्ज माफ करने का दावा किया लेकिन कुल 57000 करोड़ रुपये का कर्ज माफ किया. उसमें भी कितने पैसे कांग्रेस के चेले चपाटों के पास चले गए.

Back to top button