राष्ट्रीय

दिल्ली में रेलवे पुलिस की हेल्पलाइन पर आते हैं कुछ इस तरह के कॉल

पिज्जा और बर्गर की डिलीवरी करने की करते हैं डिमांड

नई दिल्ली: राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में रेलवे पुलिस को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है क्योंकि लोगों की मदद के लिए बनाई गई उसकी हेल्पलाइन नंबर पर रोजाना 80 फीसदी से अधिक कॉल पिज्जा और बर्गर की डिलीवरी, मोबाइल रिजार्च और ऐसे ही अन्य मामलों के संबंध में आते हैं.

हेल्पलाइन पर रोजाना आते हैं करीब 200 कॉल

दिल्ली में रेलवे पुलिस के कंट्रोल रूम में हेल्पलाइन नंबर 1512 पर रोजाना करीब 200 कॉल आते हैं. इनमें से 80 फीसदी ऐसे कॉल होते हैं जिनमें यात्री स्टॉफ से पिज्जा-बर्गर जैसी खाने-पीने की चीजें डिलीवर करने की मांग करते हैं या रेलवे में नौकरियों के बारे में पूछताछ करते हैं.

इसके अलावा लोग बर्गर, चाय, जूस, ठंडे पानी आदि की मांग करते हैं. कुछ ऐसे यात्री भी हैं जो बिजली का बिल जमा कराने के लिए या ट्रेन टिकट की बुकिंग कराने के लिए पुलिस की मदद मांगते हैं.

चार साल पहले हुई थी शुरुआत

रेलवे पुलिस हेल्पलाइन नंबर 1512 की शुरुआत 2015 में की गई थी. इसका मकसद ट्रेनों में यात्रियों को आने वाली दिक्कतों को हल करना था. रेलवे स्टेशनों, ट्रेनों में होने वाले अपराध के बारे में पुलिस को शिकायत दर्ज कराने में मदद करना था. ये हेल्पलाइन नंबर देशव्यापी है, लेकिन ज्यादातर समय इसे पुलिस सहायता नंबर की तरह इस्तेमाल करने की बजाय लोग इसका उपयोग रेलवे पूछताछ के लिए करते हैं.

Tags
Back to top button