कहीं आपकी ये आदतें न बन जाए बच्चे की सफलता में रूकावट

हर पेरेंट्स का सपना होता है कि उनका बच्चा दुनिया का सबसे सफल इंसान बने। कई बार अपनी इस इच्छा को पूरा करने के लिए पेरेट्स बच्चों पर पांबंधी लगाने लगते है।

इसके कारण बच्चें चिड़चिड़े होने के साथ जिद्दी हो जाते है जिससे उनके भविष्य पर भी बुरा असर पड़ता है। पेरेंट्स का चिंता करना जायज है लेकिन इसके चलते बच्चों के साथ सख्ती बरताव उनकी सफलता में रूकावट पैदा कर सकता है।

1. फैसला थोपना

बच्चों पर अपना फैसला थोपना और उनसे जबरदस्ती काम कराने से उनके व्यक्तित्व पर बुरा असर पड़ता है। इससे बच्चे के आत्मविश्वास को भी ठेस पहुंचती है।

2. एक्स्ट्रा केयर

बच्चों की केयर करना अच्छी बात है लेकिन इसके कारण आप बच्चों को खेलने और बाहर आने-जाने से भी रोक देते है, जो उन्हें आगे बढ़ने से रोकता है।

3. नेगेटिव थिंक

किसी खेल में हारने या पढ़ाई में अच्छे मार्क्स न आने पर आप उन्हें होंसला देने की बजाए डांटने लगते है। ऐसे में वो खुद को अकेला और असहाय महसूस कर नेगेटिविटी की ओर चले जाते है।

4. गलती का एहसास

कुछ पेरेंट्स बच्चें को प्यार में इतना बिगाड़ देते है कि उन्हें अपनी गलती का भी एहसास नहीं होता। इसकी बजाएं बच्चों को प्यार से गलती का एहसास कराकर माफी मांगने के लिए कहें

5. बच्चों के सामने लड़ना

पेरेट्स अक्सर अपने बच्चों के सामने ही लड़ाई करना शुरू कर देते है। इससे बच्चे के मानसिक विकास पर बुरा असर पड़ता है। बच्चों के सामने लड़़ने की बजाए अपने झगड़ो को आराम से सुलझाएं।

Back to top button